मदरसों और जिहाद के खिलाफ हुकूमत की कार्रवाई पाक की इत्तेहाद के लिए खतराः मसूद अजहर

मदरसों और जिहाद के खिलाफ हुकूमत की कार्रवाई पाक की इत्तेहाद के लिए खतराः मसूद अजहर
Click for full image

नई दिल्ली :मौलाना मसूद अजहर ने जैश ए मोहम्मद के ऑनलाइन तर्जमन में लिखा है कि जैश के खिलाफ कार्रवाई करके पाकिस्तान की सरकार जिस रास्ते पर चल रही है वह मुल्क के लिए काफी खतरनाक है।

एक अंग्रेजी अख़बार में छपी खबर के मुताबिक़ , अल कलाम में छपे मज़्मून में उसने कहा है कि मस्जिदों, मदरसों और जिहाद के खिलाफ उठाया गया सरकार का कदम पाकिस्तान की इत्तेहाद और सालमियत के लिए खतरा है। अजहर के हिरासत में लिए जाने की खबरें आने के वक़्त यह मज़्मून पब्लिश किया गया।

उसने लिखा है कि उसे न तो अपनी गिरफ्तारी की परवाह है न ही मारे जाने की। उसकी मौत से न तो उसके दोस्त ही उसे भूल पाएंगे और न ही उसके दुश्मन। एक फौज …जो मौत को प्यार करती है, वो तैयार हो चुकी है।

उसने आगे लिखा है कि अल्लाह की मर्ज़ी है कि यह फौज हमारे दुश्मनों को ज्यादा देर तक जश्न न मनाने दे। इस फौज को उसकी मौजूदगी का अहसास नहीं होगा। अल्लाह का शुक्र है कि उसकी ऐसी कोई तमन्ना नहीं है जो अधूरी रह गई हो। अल्लाह उसके परिवार की देखभाल कर रहा है और वह कल भी करेगा।

गौरतलब है कि पठानकोट एयर फोर्स बेस पर हमले को लेकर भारत के कड़े रूख को देखते हुए पाकिस्तान ने मुलजिमों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भरोसा दिया है। बुधवार को पाकिस्तान में अजहर समेत कुछ दहशतर्दों को हिरासत में लिए जाने की खबर आई लेकिन उसकी कोई सरकारी तस्दीक़ नहीं हुई। ऐसे में भारत पाक के बीच खारजा सेक्रेटरी सतही बातचीत पर गैर यक़ीनी सूरते हाल के बादल मंडरा रहे हैं।

Top Stories