Monday , December 18 2017

मदरसों को ग्रांट देने के लिए कवानीन बनेंगे

मदरसों को ग्रांट देने के मामले में वज़ीरे आला हेमंत सोरेन ने संताल-परगना में कुछ क्वानिन बनाने का हुक्म दिया है। इससे मदरसों को ग्रांट देने का रास्ता साफ हो सकेगा। गौरतलब है कि संताल-परगना में एसपीटी एक्ट की वजह से 333 मदरसों को ज़मीन

मदरसों को ग्रांट देने के मामले में वज़ीरे आला हेमंत सोरेन ने संताल-परगना में कुछ क्वानिन बनाने का हुक्म दिया है। इससे मदरसों को ग्रांट देने का रास्ता साफ हो सकेगा। गौरतलब है कि संताल-परगना में एसपीटी एक्ट की वजह से 333 मदरसों को ज़मीन नहीं मिल सकी है। इससे इन्हें मंजूरी नहीं मिल पा रही है। ज़राये के मुताबिक सीएम ने कुछ नियमों को बना कर मंजूरी फराहम करने की हिदायत दिया है। 15 नवंबर को अलमाती तौर से कुछ मदरसों को ग्रांट भी तक़सीम किये जायेंगे। बाकी मदरसों को जिलों के इंचार्ज वज़ीर ग्रांट तक़सीम करेंगे।

बे ज़मीन लोगों को ज़मीन का पट्टा देगी हुकूमत : यौमे तासीस के दिन बीपीएल जिनके पास ज़मीन नहीं है हुकूमत ज़मीन का पट्टा भी तक़सीम करेगी, ताकि वे इंदिरा आवास बनाकर रह सकें। वज़ीरे आला ने इस मंसूबा पर खास तवज्जो दी है। उन्होंने कहा है कि ज़मीन के बिना गरीबों की शिनाख्त नहीं रहती। हुकूमत चाहती है कि बे ज़मीन गरीबों को ज़मीन मिले और वे मकान बनाकर रह सकें।

रिक्सा चलाने वाले गरीबों को रिक्से की तक़सीम : वज़ीरे आला ने गरीब रिक्शा चलाने वालों को, जिनके पास अपना रिक्शा नहीं है, उन्हें रिक्शा देने की बात कही है। 15 नवंबर को एक सौ से ज़्यादा रिक्शा चलाने वालों के बीच मुफ्त रिक्शा की तक़सीम किया जायेगा।

TOPPOPULARRECENT