Sunday , December 17 2017

मदहोल मैं मार्किट यार्ड की तामीर का तीक़न

मर्कजी रियास्ती हुकूमत किसानों की फ़लाह बहबूद( भलाई) के लेए कई ईसकीमात को रोशनास करवाते हुए उन्हें तरकी की समेतगामज़ान करने केलिए कोशां हैं ।

मर्कजी रियास्ती हुकूमत किसानों की फ़लाह बहबूद( भलाई) के लेए कई ईसकीमात को रोशनास करवाते हुए उन्हें तरकी की समेतगामज़ान करने केलिए कोशां हैं ।

रियासत में का नगरयस हुकूमत बरसर इक़तिदार आने के बाद रियासत में कई एक आबपाशी प्रोजेक्टों की तामीर के आलावा सब यार्ड मार्किट को फ़रोग़ दित्ते हुएकिसानों को सहवलियात फ़राहम की जा रही है । इन ख़्यालात का इज़हार जी विट्ठल रेड्डी सदर नशीन ज़राई मा रकमीटी भैंसा ने मद होल में सहा फ्यूं से मुख़ातब हो कर किया ।

उन्हों ने कहा के मद होल में ज़ारई मार्कीट का क्या म यहां के किसानों का देरीना ख़ाब है जिस को शर मंदा ताबीर करना मीर निस्बुल ऐन है । उन्हों ने कहा के मद होल मुस्तक़र में सब यार्ड मार्कीट के क्या म केलिए गुज़शता सात साल क़बल रियास्ती सतह पर का मेह ब नमाइनद गी करते हुए मज़कूरा मार्कीट की मंज़ूरी को अमल में लाया गया था ।

जिस के बाद मुताल्लिक़ा कुछ मफ़ाद(फाईडा) परसत सयासी क़ाइद(लीडर) यन इस मआमेला में बेजा मदाख़िलत करते हुए इस कार्रवाई को आगे बढ़ने की नाकाम कोशिश की गई ।जी विट्ठल रेड्डी ने कहा के एमसी के अह्दए पर ना रहने की वजहा से मद होल में सब यार्ड मार्कीट के क्याम मैं ताख़ैर हुई जिस की वजहा से मद मुस्तक़र और अतराफ़ वाकना फ के मअज़ात के किसानों को काफ़ी मुश्किलात दर पेश हो रही है।

TOPPOPULARRECENT