Monday , December 11 2017

मदारिस की बैरूनी फंडिंग का तरीक़ेकार वज़ा किया जाएगा

हुकूमते पाकिस्तान ने कहा है कि उस ने दीनी मदारिस की अज़सरे नव रजिस्ट्रेशन करने और उन्हें बैरून मुल्क से मिलने वाली माली इमदाद की निगरानी का तरीके कार वज़ा करने का फ़ैसला किया है।

इस्लामाबाद में वज़ीरे आज़म नवाज़ शरीफ़ की सदारत में होने वाले आला सतह के इजलास के बाद वज़ीरे दाख़िला चौधरी निसार अली ख़ान ने एक अख़बारी कान्फ़्रैंस में कहा कि हुकूमत मदरसों को मिलने वाली बैरूनी इमदाद का तरीक़े कार वज़ा करेगी जिससे मदारिस को इत्तिफ़ाक़ होगा।

उन्होंने कहा कि तंज़ीमातुल मदारिस के नुमाइंदा वफ़ूद की मुलाक़ात स्टेट बैंक के अहलकारों से होगी ताकि बैरूनी फंडिंग का तरीक़े कार तय करने के साथ साथ अंडर हैंड (बग़ैर इंदिराज के) मुन्तक़ली रक़म को रोकने के लिए इक़दामात पर भी ग़ौर किया जाएगा।

इस मक़सद के लिए मदारिस को बैंक एकाउंट्स खोलने की इजाज़त दी जाएगी ताकि सब शफ़्फ़ाफ़ तरीक़े से हो सके। इस के इलावा दीनी मदारिस क़ानून के मुताबिक़ ऑडिट रिपोर्ट तैयार करेंगे।

TOPPOPULARRECENT