Monday , December 18 2017

मदीना एजूकेशन सोसाइटी की जायदाद और इदारे वक़्फ़ बोर्ड की तहवील में

वक़्फ़ बोर्ड ने एक अहम कार्रवाई करते हुए मदीना एजूकेशन सोसाइटी के तहत मौजूद तमाम औकाफ़ी जायदादों और उस के तहत चलने वाले तालीमी इदारों को रास्त तौर पर अपनी तहवील में ले लिया है। इस सिलसिले में स्पेशल ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड और कमिशनर अ

वक़्फ़ बोर्ड ने एक अहम कार्रवाई करते हुए मदीना एजूकेशन सोसाइटी के तहत मौजूद तमाम औकाफ़ी जायदादों और उस के तहत चलने वाले तालीमी इदारों को रास्त तौर पर अपनी तहवील में ले लिया है। इस सिलसिले में स्पेशल ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड और कमिशनर अक़लीयती बहबूद शेख़ मुहम्मद इक़बाल ने आज शाम प्रैस कान्फ़्रैंस में तफ़सीलात का एलान किया।

उन्हों ने बताया कि मदीना एजूकेशन सोसाइटी के इलावा अलाउद्दीन ट्रस्ट के तहत जायदादों को भी बोर्ड की तहवील में ले लिया गया। उन्हों ने बताया कि ये दोनों इदारे ना सिर्फ़ मंशाए वक़्फ़ की ख़िलाफ़वर्ज़ी के मुर्तक़िब थे बल्कि उन्हों ने वक़्फ़ क़ानून की भी ख़िलाफ़वर्ज़ी की। इन दोनों इदारों के ज़िम्मेदारों के ख़िलाफ़ वक़्फ़ ऐक्ट के इलावा आई पी सी के तहत मुक़द्दमात दर्ज करने का फ़ैसला किया गया।

वक़्फ़ बोर्ड के मुताल्लिक़ा ओहदेदारों ने आज मदीना एजूकेशन सोसाइटी के तहत चलने वाले इदारों को पहुंच कर तहवील में लेने की कार्रवाई मुकम्मल की। उन्हों ने बताया कि मज्लिसे शूरा दस्ती पार्चाबाफ़ी हरमैन शरीफ़ैन के तहत ये जायदादें हैं और मंशाए वक़्फ़ के मुताबिक़ उस की आमदनी मक्का मुकर्रमा और मदीना मुनव्वरा में बाफ़िंदों की इमदाद के लिए इस्तेमाल की जानी हैं।

ताहम सऊदी अरब में बाफ़िंदों की अदमे मौजूदगी के बाइस उस की आमदनी को तालीमी अग़राज़ पर ख़र्च करने का फ़ैसला किया गया। शेख़ मुहम्मद इक़बाल ने बताया कि 1997 में वक़्फ़ जायदादों का जायज़ा लेने वाली ऐवान की कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में सोसाइटी के ख़िलाफ़ कार्रवाई की सिफ़ारिश की थी बाद में वक़्फ़ बोर्ड की जानिब से हफ़ीज़ सिद्दीक़ी स्पेशल ग्रेड डिप्टी कलेक्टर के ज़रीए इस मुआमला की तहक़ीक़ात कराई गईं।

उन्हों ने बताया कि इस मुआमला में ऐवान की कमेटी ने उस वक़्त के बाअज़ ओहदेदारों के ख़िलाफ़ भी कार्रवाई की सिफ़ारिश की है जिन में मुहम्मद सिद्दीक़ी सेक्रेट्री वक़्फ़ बोर्ड, मुहम्मद महमूद डिप्टी सेक्रेट्री वक़्फ़ बोर्ड, कमाल उद्दीन अली ख़ान सेक्रेट्री वक़्फ़ बोर्ड और लायक़ अली ख़ान स्पेशल ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड शामिल हैं। शेख़ मुहम्मद इक़बाल ने कहा कि इन साबिक़ ओहदेदारों के ख़िलाफ़ कार्रवाई के सिलसिले में क़ानूनी राय हासिल की जा रही है।

TOPPOPULARRECENT