Sunday , September 23 2018

मधुबनी से यक़ीनी तौर पर इंतिख़ाब लडेंगे : सिद्दीकी

बिहार एसेम्बली में राजद एमएलए दल के लीडर अब्दुलबारी सिद्दीकी ने मधुबनी से यक़ीनी तौर पर इंतिखाबा लडने की बात करते हुए कांग्रेस के साथ दोस्ताना जद्दो-जहद का सुझाव दिया है। सिद्दीकी ने कल कहा कि साल 2009 के लोकसभा इंतिख़ाब में मधुबनी सं

बिहार एसेम्बली में राजद एमएलए दल के लीडर अब्दुलबारी सिद्दीकी ने मधुबनी से यक़ीनी तौर पर इंतिखाबा लडने की बात करते हुए कांग्रेस के साथ दोस्ताना जद्दो-जहद का सुझाव दिया है। सिद्दीकी ने कल कहा कि साल 2009 के लोकसभा इंतिख़ाब में मधुबनी संसदीय सीट से वे राजद के उम्मीदवार थे।

राजद एसेम्बली रुक्न के लीडर ने कहा कि साल 2009 में उन्होंने सोचा भी नहीं था उन्हें लोकसभा इंतिख़ाब लडना पड जाएगा, पर उनकी पार्टी ने उन पर आखरी वक़्त में जोर देकर उन्हें मधुबनी पार्लियामेंट सीट से उसे इंतिख़ाब लडवाया था। उन्होंने बताया कि 12 से 15 दिनों के अंदर तैयारी कर वह मधुबनी से इंतिख़ाब लडे और राजद में पूरे बिहार में वह सबसे कम वोट से हारे थे।

सिद्दीकी ने कहा कि कांग्रेस के साथ इत्तिहाद हो जाए तो बहुत अच्छी बात है और ऐसा होने पर इत्तिहाद के मेयार के हिसाब से वह सीट हमारी है और वे यक़ीनी तौर पर वहां से इंतिखाबा लडेंगे। कांग्रेस पार्टी की तरफ से मधुबनी पार्लियामानी सीट से साबिक़ मर्कज़ी वज़ीर शकील अहमद को इंतिख़ाब लडाए जाने की बहस के बारे में पूछे जाने पर सिद्दीकी ने शकील का नाम लिए बिना कहा कि हम इसके लिए भी राजी हैं। कांग्रेस के कोई कद्दावर लीडर जिनका वहां के वोटरों के दरमियान बडी पैठ है और मधुबनी से इंतिख़ाब लडना चाहते हैं तो ऐसे में मेरी भी दावेदारी है। बिहार की 40 सीटों में 39 सीटों पर तालमेल हो जाए और मधुबनी सीट पर दोस्ताना लड लें।

TOPPOPULARRECENT