Monday , December 11 2017

मधुबाला अपनी मुहब्बत का इज़हार फूल और खत देकर करती थीं

आज के दौर मे जहां वेलेन्टाईन डे "14 फरवरी" का रिवाज़ जोरो पर है वहीं मधुबाला की पैदाइश भी इसी दिन 14 फरवरी 1933 को हुई थी और वह अपनी मुहब्बत का इजहार गुलाब का फूल देकर करती थी। बेपनाह हुस्न की मल्लिका मधुबाला ज़िंदगी भर सच्चे प्यार को तरसती

आज के दौर मे जहां वेलेन्टाईन डे “14 फरवरी” का रिवाज़ जोरो पर है वहीं मधुबाला की पैदाइश भी इसी दिन 14 फरवरी 1933 को हुई थी और वह अपनी मुहब्बत का इजहार गुलाब का फूल देकर करती थी। बेपनाह हुस्न की मल्लिका मधुबाला ज़िंदगी भर सच्चे प्यार को तरसती रही।

मधुबाला अपनी मुहब्बत का इजहार गुलाब का फूल और लव लेटर देकर करती थी। कहा जाता है कि मधुबाला ने अपने प्यार का इजहार फूल और लव लेटर देकर दिलीप कुमार, किशोर कुमार, पाकिस्तान के साबिक वज़ीर ए आज़म , जुल्फीकार अली भुट्टो, प्रदीप कुमार, भरत भूषण, कमाल अमरोही, के.आसिफ, प्रेमनाथ से किया था। कहा जाता है कि फिल्म तराना की तामीर के दौरान मधुबाला दिलीप कुमार से मोहब्बत करने लगी।

उन्होंने अपने ड्रेस डिजाइनर को गुलाब का फूल और एक खत देकर दिलीप कुमार के पास इस पैगाम के साथ भेजा कि अगर वह भी उनसे प्यार करते है तो इसे अपने पास रख ले। दिलीप कुमार ने फूल और खत दोनों को खुशी से कुबूल कर लिया। दिल में मोहब्बत का पैगाम लिए मधुबाला 23 फरवरी 1969 को महज 36 साल की उम्र मे इस दुनिया को अलविदा कह गई।

TOPPOPULARRECENT