Monday , December 18 2017

मनमोहन सिंह के नाम की तजवीज़ पर करूणानिधि का तब्सिरा से इनकार

डी एम के सरबराह एम करूणानिधि जिन की पार्टी यू पी ए की हलीफ़ जमात है, ने आज उन रिपोर्टस पर तब्सिरा करने से इनकार कर दिया जहां समाजवादी पार्टी और तृणमूल कांग्रेस ने सदर जमहूरीया ( राष्ट्रपती) के ओहदा के लिए वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह का नाम

डी एम के सरबराह एम करूणानिधि जिन की पार्टी यू पी ए की हलीफ़ जमात है, ने आज उन रिपोर्टस पर तब्सिरा करने से इनकार कर दिया जहां समाजवादी पार्टी और तृणमूल कांग्रेस ने सदर जमहूरीया ( राष्ट्रपती) के ओहदा के लिए वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह का नाम तजवीज़ (प्रस्ताव) किया था।

उन्होंने इस मौज़ू पर तब्सिरा करने से यकसर इनकार कर दिया। याद रहे कि सिर्फ दो रोज़ क़बल मुलायम सिंह और ममता बनर्जी ने सदर जमहूरीया ( राष्ट्रपती) के ओहदा के लिए साबिक़ सदर ए पी जे अब्दुल कलाम और साबिक़ लोक सभा स्पीकर सोमनाथ चटर्जी का नाम तजवीज़ ( प्रस्ताव) किया था।

मिस्टर करूणानिधि ने कहा कि फ़िलहाल मौजूदा तज़बज़ब ( शंका/ अस्मंजस) ख़त्म होने के बाद ही वो अपनी जानिब से सदर जमहूरीया के ओहदा के लिए कोई नाम तजवीज़ (प्रबंध) करेंगे क्योंकि जिस तरह वज़ीर मालियात परनब मुकर्जी के नाम लिया जा रहा है। पता नहीं हालात आगे चल कर क्या रुख इख़तियार करें।

हेडलाइन्स टूडे से बात करते हुए उन्हों ने कहा कि परनब मुकर्जी के नाम की तजवीज़ भी उन्होंने पेश की थी और पता नहीं आगे चल कर किया तब्दीली हुई है। एक बार मौजूदा तज़बज़ ( शंका/ अस्मंजस) दूर हो जाए तो वो किसी नाम की तजवीज़ पेश करेंगे।

TOPPOPULARRECENT