Wednesday , July 18 2018

मनमोहन सिंह पर मोदी के दिए बयान पर संसद में हंगामा, कांग्रेस ने किया वॉकआउट

नई दिल्‍ली। शीतकालीन सत्र में मंगलवार को लोकसभा में गुजरात चुनाव के दौरान पीएम मोदी द्वारा पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर दिए बयान पर जमकर हंगामा किया और वॉकआउट कर दिया। कांग्रेस नेताओं ने पीएम मोदी से माफी की मांग की।

कांग्रेस की मांग है कि पीएम संसद में आकर अपनी बात साफ करें। इसके बाद दोनों सदनों में कई मुद्दों को लेकर हंगामा हुआ। राजद प्रमुख लालू यादव की सुरक्षा में कटौती का मामला, एफआरडीआई बिल की वापसी की मांग, दागी नेताओं पर स्‍पेशल कोर्ट के गठन समेत, पेट्रोलियम प्रोडक्‍ट को जीएसटी के तहत लाने किसानों की कर्जमाफी समेत कई मामले हैं।

पीएम मोदी के बयान की निंदा करते हुए कांग्रेस ने कहा कि देश के लिए भरोसेमंद डॉ. मनमोहन सिंह की ईमानदारी पर सवाल उठाया गया तो पीएम को खुद सदन में आकर स्‍पष्‍ट करना चाहिए। स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने इस हंगामे को लेकर नाराजगी जाहिर की।

महाजन ने कहा चुनावी बयानबाजी को लोकसभा में लाने की अनुमति नहीं दे सकती। लेकिन कांग्रेस अपनी जिद पर अड़ी रही। इसपर महाजन ने पार्टी की निंदा की और कहा कांग्रेस शीतसत्र के देरी से आयोजन को लेकर चिंता जता रही थी और यहां हंगामा कर समय नष्ट कर रही है।

राज्यसभा में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने पीएम से माफी मांगने की बात कही। सोमवार को भी कांग्रेस समेत अन्य सदस्यों ने संसद के दोनों सदनों में टिप्पणी को लेकर हंगामा किया था ।वहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस मुद्दे पर विपक्ष से मुलाकात की। उन्होंने हंगामे के बाद विपक्ष के नेताओं के साथ बैठकी की।

लोकसभा में कांग्रेस नेता मल्लकार्जुन खड़गे ने कहा कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री, पूर्व सेना प्रमुख, पूर्व विदेश सचिव का अपमान हुआ है और आप हमारी बात सुनने को तैयार नहीं हैं। वहीं कांग्रेस सांसद सुनील जाखड़ ने कहा, ‘मैं सरकार को चुनौती देना चाहूंगा कि वह पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खिलाफ केस दर्ज करें’।

इस पर सुमित्रा महाजन ने कहा कि अब सभी चुनाव हो चुके हैं, जनादेश आ गया है और अब आप प्रश्नकाल चलने दें। इसके बाद भी कांग्रेस सदस्यों का शोर शराबा जारी रहा।

TOPPOPULARRECENT