Wednesday , December 13 2017

मन की बात में बच्चों की मौत का कोई ज़िक्र नहीं: कांग्रेस

नई दिल्ली: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘मन की बात’ में गुजरात के एक अस्पताल में 24 घंटे में 18 बच्चों की मौत का ज़िक्र न होने पर हैरानी जताते हुए आज सवाल किया कि क्या उनके इस दिल में इन निर्दोष बच्चों और उनके परिवारों के लिए कोई दर्द नहीं है।
कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने आज संवाददाताओं से कहा कि अहमदाबाद सिविल अस्पताल में डॉक्टरों की कमी के कारण इन निर्दोष बच्चों की मौत हो गई। श्री शेरगिल ने मोदी की ‘मन की बात’ को निराशाजनक करार देते हुए कहा कि मोदी सरकार की ‘लापरवाही’ से होने वाले हादसे के लिए माफी मांगनी चाहिए थी और उसकी नैतिक जिम्मेदारी लेनी चाहिए थी।

उन्होंने आरोप लगाया कि अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक बीजेपी राज्य विधानसभा चुनावों में भाजपा टिकट हासिल करने में मसरूफ़ हैं। मामले की न्यायिक निगरानी के मामले में, तीसरी पार्टी द्वारा जांच की जा रही है, उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपानी के इस्तीफे की भी मांग की।

‘मन की बात’ में 31 अक्टूबर को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर ‘रन फ़ार यूनिटी’ में भाग लेने की मोदी की अपील पर कटाक्ष करते हुए श्री शेरगिल ने सवाल किया कि क्या वह एकता और अखंडता श्री पटेल के सिद्धांत में विश्वास रखते हैं? पिछले तीन वर्षों में देश में सांप्रदायिक घटनाओं और उनमें मारे गए लोगों की संख्या बढ़ने से संबंधित सरकार के एक बयान का हवाला देते हुए प्रवक्ता ने कहा कि तथ्य यह है कि सरकार ‘रन ए‍ंड‌ फ्रॉम यूनिटी’ यानी गठबंधन से दूर भागने का काम कर रही है।

TOPPOPULARRECENT