Monday , December 11 2017

ममता के मंत्री ने माना, नारदा स्टिंगकर्ता से लिए थे साढ़े तीन लाख रुपए

कोलकाता। नारद स्टिंगकाण्ड के आरोपी राज्य के पंचायत व ग्रामीण विकास मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने शुक्रवार को माना कि उन्होंने स्टिंगकर्ता मैथ्यू सैमुअल से साढ़े तीन लाख रुपए लिए थे। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मुखर्जी को पूछताछ के लिए तलब किया था।

लगभग तीन घंटे तक सीजीओ कॉम्प्लेक्स में केन्द्रीय जांच एजेन्सी के अधिकारियों ने मुखर्जी से पूछताछ की। उनका बयान रिकार्ड किया। सूत्रों के अनुसार मुखर्जी ने साढ़े तीन लाख रुपए लेने की बात मानी है।

कागजात की जांच के बाद फिर हो सकती है पूंछताछ- ईडी
सुब्रत ने बताया कि मैथ्यू से उनका परिचय विधायक व कोलकाता नगर निगम के उपमेयर इकबाल अहमद ने करवाया था। ईडी अधिकारियों ने उनसे उनके बैंक स्टेटमेन्ट, संपत्ति का ब्यौरा और कागजात जल्द जमा करने को कहा है।

जांच टीम के अधिकारी कागजात की जांच करेंगे। फिर जरूरत पडऩे पर मुखर्जी को पूछताछ के लिए तलब किया जाएगा। मुखर्जी ने संवाददाताओं को बताया कि उन्हें उम्मीद है कि उन्होंने अपने जवाब से जांच अधिकारियों को संतुष्ट किया है।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि उन्होंने जांच अधिकारियों को जांच में सहयोग की बात कही है। उन्हें जब बुलाया जाएगा वे हाजिर होंगे। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में 2016 के राज्य विधानसभा चुनाव से ठीक पहले नारदा स्टिंग वीडियो सार्वजनिक हुआ था।

चुनाव में लगातार दूसरी बार जीत दर्ज करते हुए तृणमूल कांग्रेस ने ममता बनर्जी के नेतृत्य में सरकार बनाई थी। स्टिंग वीडियो में तृणमूल कांग्रेस के 12 बड़े नेता (सांसद/मंत्री) और एक आईपीएस अधिकारी रिश्वत लेते दिख रहे हैं।

मामले में सांसद सुल्तान अहमद, विधायक इकबाल अहमद, मेयर शोभन चटर्जी, मंत्री फिरहाद हकीम आदि से पूछताछ की जा चुकी है।

TOPPOPULARRECENT