Thursday , January 18 2018

ममता पर तपस पाल के दिफ़ा का सिद्धार्थ नाथ सिंह का इल्ज़ाम

चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी पर तपस पाल का दिफ़ा करने का इल्ज़ाम आइद करते हुए बी जे पी के सीनियर क़ाइद सिद्धार्थ नाथ सिंह ने आज कहा कि सिर्फ़ माज़रत ख़्वाही से कोई फ़ायदा नहीं, उन्हें तृणमूल कांग्रेस के रुकन पार्लियामेंट क

चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी पर तपस पाल का दिफ़ा करने का इल्ज़ाम आइद करते हुए बी जे पी के सीनियर क़ाइद सिद्धार्थ नाथ सिंह ने आज कहा कि सिर्फ़ माज़रत ख़्वाही से कोई फ़ायदा नहीं, उन्हें तृणमूल कांग्रेस के रुकन पार्लियामेंट की ओहदे से मुस्ताफ़ी होजाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस रुकन पार्लियामेंट तपस पाल के दो टेप मंज़रे आम पर आचुके हैं और ममता बनर्जी अब भी इन का दिफ़ा करने की कोशिश कररही हैं। तृणमूल कांगे्रस के ग़ुंडों के लिए पार्टी की यही पालिसी है। सिर्फ़ माज़रत ख़्वाही से कोई फ़ायदा हासिल नहीं होगा, उन्हें पार्लियामेंट की नशिस्त से मुस्ताफ़ी होजाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मग़रिबी बंगाल हुकूमत को उनके ख़िलाफ़ फ़ौजदारी मुक़द्दमा दर्ज करना चाहिए। ममता बनर्जी ने कल तपस पाल की नफ़रतअंगेज़ तक़रीर को बहुत बड़ी ग़लती क़रार दिया था ताहम इज़हारे हैरत भी किया था कि क्या ममता बनर्जी उसकी सज़ा में उन्हें क़तल करना चाहिए जो भी ज़रूरी इक़दामात हैं, किया जा चुके हैं।

ममता बनर्जी ने कल प्रेस कान्फ्रेंस में कहा था कि ये एक इन्फ़िरादी बयान है। क्या आप चाहते हैं कि में उन्हें क़तल कुर्दों, में जो कुछ करसकती थी , पुलिस के ज़रिये करचुकी हूँ। तपस पाल ने कल सी पी आई एम कारकुनों को अपनी मुबय्यना धमकीयों और उनकी ख़वातीन की इस्मत रेज़ि की धमकीयों पर ग़ैरमशरूत माज़रत ख़्वाही करली है।

पार्टी क़ाइदीन उन के बयान पर परेशान हैं। दीगर सियासी पार्टीयां शिद्दत से मज़म्मत कररही हैं।

TOPPOPULARRECENT