Thursday , February 22 2018

ममता बनर्जी का फैसला, मोदी की नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन से पश्चिम बंगाल होगा बाहर!

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने फैसला किया है कि वह मोदी केयर योजना को नहीं मानेगी और बाहर होगी। सूत्रों के हवाले से खबर है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के उस फैसले के खिलाफ है जिसमें मोदी ने केंद्रीय बजट में 50 करोड़ लोगों को स्वास्थ्य बीमा देने की योजना बनाई है।

इस योजना का नाम मोदीकेयर है। मोदी की नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन से बंगाल बाहर होगा इसका फैसला ख़ुद ममता बनर्जी ने लिया है। ममता का मानना है की इस योजना में राज्य सरकार अपनी गाड़ी कमाई का पैसा खर्च नहीं करेगी और इस तरह का निर्णय लेने वाली यह पहली राज्य सरकार है।

राज्य की कृष्णा नगर में एक सभा को सम्बोधित करते हुए ममता ने कहा ‘केंद्र सरकार एक ऐसी स्वास्थ्य योजना लेकर आई है, जिसमें 40 फीसदी फंड राज्यों को देना होगा।

सवाल उठता है कि राज्य सरकारें एक और कार्यक्रम के लिए पैसा क्यों खर्च करें, जब उनके पास पहले से ही ऐसा कार्यक्रम है? राज्य के पास संसाधन होगा तो वह अपनी योजना चलाएगा।’

साथ ही ममता ने कहा कि उनकी सरकार ने बंगाल में तो अस्पतालों में भर्ती और उपचार को पहले से ही मुफ्त कर रखा है। बंगाल सरकार ने अपने स्वास्थ्य साथी कार्यक्रम का लाभ अब तक 50 लाख लोगों तक पहुंचाया है।

बताते चले कि करीब एक साल में 6,000 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत द्वारा लगाया है सरकार की इस योजना में केंद्र सरकार ने इसके लिए 2,000 करोड़ का एक तात्कालिक आवंटन किया है।

TOPPOPULARRECENT