ममता बनर्जी ने कहा- पूरी रात चलेगा सत्याग्रह, प्रदर्शन शुरू, कोर्ट जा सकती है CBI

ममता बनर्जी ने कहा- पूरी रात चलेगा सत्याग्रह,  प्रदर्शन शुरू, कोर्ट जा सकती है CBI

पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल पूरे चरम पर है. सीबीआई टीम द्वारा कोलकाता में पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ की कोशिश, सीबीआई टीम का हिरासत में लिया जाना, टीम को छोड़े जाने, सीबीआई दफ्तर के बाहर सीआरपीएफ की तैनाती और फिर ममता बनर्जी द्वारा धरने पर बैठने के बाद पूरे पश्चिम बंगाल इसका असर देखने को मिल रहा है. पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने अलग-अलग हिस्सों में मोदी सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है. वहीं, ममता ने एलान किया कि रात भर उनका धरना जारी रहेगा.

 

वहीं, दूसरी ओर मामले को लेकर सीबीआई ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल से मिलने का समय मांगा है. रिपोर्ट्स के अनुसार सीबीआई इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट भी जा सकती है. सीबीआई आज रात ही सुप्रीम कोर्ट जा सकती है. ममता बनर्जी के साथ पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार भी धरने पर बैठे हैं. ये वही राजीव कुमार हैं, जिनसे सीबीआई की टीम घोटालों के मामले में पूछताछ करने पहुंची थी.

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी मेट्रो सिनेमा के बाहर धरने पर बैठी हैं. बीजेपी व केंद्र सरकार के खिलाफ तानाशाही का आरोप लगाते हुए वह धरने पर बैठी हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का अत्याचार बहुत बर्दाश्त किया, अब ऐसा नहीं होगा. ममता के धरने पर बैठते ही सीबीआई अफसरों को छोड़ दिया गया है. विधानगर पुलिस ने टीम को सीबीआई के रीजनल ऑफिस के बाहर छोड़ा है. इसके साथ ही सीबीआई के रीजनल ऑफिस के बाहर सीआरपीएफ भी तैनात कर दी गई है. यहां बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है. बता दें कि सीबीआई दफ्तर के बाहर से पुलिस हट गई थी. इसके बाद सीआरपीएफ को यहां तैनात किया गया है.

सीबीआई टीम सारदा घोटाले और रोज वैली घोटाले की जांच करने कोलकाता पहुंची थी. सीबीआई टीम को कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ करने गई. इसी दौरान ऐसा हुआ. सीबीआई टीम कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंची. सारदा घोटाला व रोज वैली घोटाले की जांच 2014 से चल रही है. जैसे ही टीम पुलिस कमिश्नर के घर के बाहर पहुंची, तभी पुलिस ने सीबीआई टीम को हिरासत में ले लिया. पुलिस पांच सदस्यीय सीबीआई टीम को कार में बैठाकर थाने ले गई.

सीबीआई का कहना है कि पूछताछ के लिए उन्हें नोटिस भेजा गया था, लेकिन उन्होंने इसका जवाब नहीं दिया था. जबकि ममता बनर्जी और पुलिस कमिश्नर का कहना है कि बिना कोई जानकारी दिए सीबीआई उनके घर में दाखिल होने की कोशिश की. घर के बाहर पुलिस ने सीबीआई को वारंट दिखाने को कहा, इसके बाद मामला बिगड़ गया. और पुलिस ने सीबीआई को हिरासत में ले लिया. हिरासत में लिए जाने के बाद पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंच गईं. ममता बनर्जी ने राजीव कुमार के साथ मीटिंग की. और फिर पत्रकारों से बात के बाद धरने पर बैठ गईं.

Top Stories