Wednesday , December 13 2017

ममता से कोई शिकायत नहीं : संगमा

सदारती उम्मीदवार पी ए संगमा ने आज एक अहम ब्यान देते हुए कहा कि परनब मुकर्जी की ताईद ( समर्थन) करने वाली ममता बनर्जी से उन्हें कोई बुग़ज़ ( जलन/ ईर्ष्या) नहीं है क्योंकि ये एक सयासी ज़रूरत है और हर पार्टी का अपना अपना नज़रिया है । जब उन से य

सदारती उम्मीदवार पी ए संगमा ने आज एक अहम ब्यान देते हुए कहा कि परनब मुकर्जी की ताईद ( समर्थन) करने वाली ममता बनर्जी से उन्हें कोई बुग़ज़ ( जलन/ ईर्ष्या) नहीं है क्योंकि ये एक सयासी ज़रूरत है और हर पार्टी का अपना अपना नज़रिया है । जब उन से ये पूछा गया कि क्या ममता बनर्जी के फ़ैसला से वो मायूस हुए जिस का नफ़ी ( नामंजूरी) में जवाब देते हुए उन्हों ने फ़ौरी ( फौरन) तौर पर कहा कि अपनी पार्टी के लिए उन्हें ( ममता ) कोई भी फ़ैसला करने का पूरा हक़ है । मुझे उन से कोई शिकायत नहीं है । मैंने उन से मुलाक़ात की भी कोशिश की थी और मुलाक़ात के बाद उन से दरख़ास्त की थी कि वो मेरी ताईद ( मदद/समर्थन) करें ।

ऐसा करना मेरा फ़र्ज़ था और साथ ही साथ मुझे ये कहने में भी कोई और नहीं कि उन्होंने मेरी बात को इंतिहाई सब्र-ओ-तहम्मुल के साथ सुना और मेरी हौसलाअफ़्ज़ाई भी की । याद रहे कि क़ब्लअज़ीं संगमा ने कोलकता में ममता बनर्जी से मुलाक़ात की थी ताकि सदारती इंतिख़ाब केलिए उन की ( ममता ) ताईद हासिल की जा सके ।

उन्हीं तवक़्क़ो ( भरोसा/ उम्मीद) थी कि तृणमूल कांग्रेस चूँकि यू पी ए की हलीफ़ ( दोस्त/ पक्ष की) जमात है लिहाज़ा वो उन की ताईद ज़रूर करेगी लेकिन ममता बनर्जी ने इंतिहाई मस्लिहत से काम लिए हुए संगमा से कोई वायदा नहीं किया । हालाँकि संगमा को कई अपोज़ीशन जमातों ( विपक्ष की पार्टी) की ताईद ( समर्थन) हासिल है । लेकिन ममता की ताईद ( समर्थन) ना मिलने पर वो मायूस हैं। एन डी टी वी से बात करते हुए उन्होंने कहा कि इन के लिए ( संगमा) हर वोट एहमीयत का हामिल है ।

TOPPOPULARRECENT