Thursday , December 14 2017

मर्कज़ी बजट में रियासत तेलंगाना नजरअंदाज़

वेलफ़ेयर पार्टी ऑफ़ इंडिया, तेलंगाना यूनिट के सदर सैयद शफ़ी उल्लाह कादरी ने एक प्रैस नोट में कहा कि मर्कज़ी वज़ीर फ़ाइनेन्स अरूण जेटली की जानिब से पेश किए गए मर्कज़ी बजट 2015-16 को कॉर्पोरेट्स और टैक्स दहिंदगान के लिए एक ख़ुशकुन बजट के तौर पर ही देखा जा सकता है।

उन्हों ने कहा कि वो ये महसूस करते हैं कि बजट में नई रियासत तेलंगाना के लिए कोई ठोस इक़दाम नहीं किया गया। उन्हों ने कहा कि नई तशकील पार्टी रियासत तेलंगाना के लिए तवक़्क़ुआत थीं लेकिन उसे रेलवे और आम बजट दोनों में नजर अंदाज़ कर दिया गया।

मर्कज़ की जानिब से कहा जा रहा है कि छोटी रियास्तों को तर्जीह देते हुए फंड्स जारी किए जाएंगे लेकिन मर्कज़ी हुकूमत ने दरहक़ीक़त कुछ नहीं है। उन्हों ने कहा कि तेलंगाना के अवाम के लिए पानी और बर्क़ी दो बड़े मसाइल हैं लेकिन रियासत के इन अहम मसाइल को हल करने के लिए बजट 2015 में कोई वाअदा नहीं किया गया। आबपाशी, ज़राअत, इन्रासास्ट्रक्चर और दीगर बड़े मसाइल को नजरअंदाज़ कर दिया गया।

TOPPOPULARRECENT