Monday , July 23 2018

मर्कज़ी हुकूमत पर समाजी जहदकारों के साथ नाइंसाफ़ी करने का इल्ज़ाम

इन्क़िलाबी मुसन्निफ़ वो समाजी जहदकार विरा विरा राव ने मुल्क में ग़ैर मोअल्लाना एमरजेंसी नाफ़िज़ करने का मर्कज़ी हुकूमत पर इल्ज़ाम आइद करते हुए कहा कि अवामी मसाइल बिलख़ुसूस क़बाईलों के हुक़ूक़ के लिए जद्दो जहद करने वालों को गिरफ़्तार करते हुए उन्हें जेल की सलाख़ों के पीछे डाला जा रहा है या फिर एनकाउंटर के नाम पर उनका क़त्ल किया जा रहा है।

नागपुर जेल में मुक़ीद प्रोफ़ेसर जी एन साई बाबा की रिहाई के लिए मुजस्समा अंबेडकर वाक़े टैंक बंड चौराहे पर मुनाक़िदा एहतेजाजी मुज़ाहिरे से ख़िताब में विरा विरा राव ने समाजी जहद कारों दानिशवरों और डैमोक्रेटिक क़ाइदीन के साथ मर्कज़ी ओ रियास्ती हुकूमतों के रवैय्या पर शदीद ब्रहमी का इज़हार किया और कहा कि चार साल बाद ज़मानत पर रहा हुए प्रोफ़ेसर जी एन साईबाबा को दूसरे मुक़ामात के मुआमलात में माख़ूज़ करते हुए महाराष्ट्र पुलिस ने दोबारा नागपुर जेल में बंद कर दिया। इस मौक़ा पर जीवन कुमार राघव नाथ एन कृष्णा देवेन्द्र और दीगर भी मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT