Thursday , December 14 2017

मर्कज़ का ख़तरनाक फ़ैसला: करूणानिधि

चेन्नाई २९ नवंबर (पी टी आई) रीटेल शोबा में ग़ैर मुल्की रास्त सरमाया कारी की इजाज़त देने मर्कज़ के फ़ैसला को ख़तरनाक क़रार देते हुए यू पी ए की हलीफ़ डी ऐम के ने फ़ौरी ये फ़ैसला वापिस लेने का मुतालिबा किया। डी ऐम के सरबराह करूणानिधि ने कहा कि म

चेन्नाई २९ नवंबर (पी टी आई) रीटेल शोबा में ग़ैर मुल्की रास्त सरमाया कारी की इजाज़त देने मर्कज़ के फ़ैसला को ख़तरनाक क़रार देते हुए यू पी ए की हलीफ़ डी ऐम के ने फ़ौरी ये फ़ैसला वापिस लेने का मुतालिबा किया। डी ऐम के सरबराह करूणानिधि ने कहा कि मर्कज़ का रियास्तों पर इस फ़ैसला पर अमल आवरी पुर इसरार मुंसिफ़ाना नहीं होसकता।

उन्हों ने कहा कि जिस वक़्त चिल्लर फ़रोशी के शोबा में एफडी आई की तजवीज़ पेश की गई थी , डी ऐम के तभी से इस की मुख़ालिफ़त करती आरही है ।

लोक सभा में डी ऐम के के 18 अरकान है और ये यू पी ए की दूसरी अहम हलीफ़ जमात है। ममता बनर्जी की ज़ेर क़ियादत तृणमूल कांग्रेस जो पहली हलीफ़ है , इस ने भी एफडी आई की मुख़ालिफ़त की है। उन्होंने कहा कि रीटेल शोबा में एफडी आई की इजाज़त देने से हिंदूस्तान बुरी तरह मुतास्सिर होगा।

TOPPOPULARRECENT