Sunday , December 17 2017

मर्कज़ को दुबारा कुल जमाती इजलास तलब करने की ज़रूरत नहीं

रियासत की तक़सीम के फ़ैसले पर अज़सरे -नौग़ौर करने के मौज़ू पर मर्कज़ को दुबारा कुल जमाती इजलास तलब करने की हरगिज़ ज़रूरत नहीं है। साबिक़ सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी-ओ-रुक्न क़ानूनसाज़ कौंसल मिस्टर डी सरीनिवास ने ये बात बताई और मौजूदा सदर प्

रियासत की तक़सीम के फ़ैसले पर अज़सरे -नौग़ौर करने के मौज़ू पर मर्कज़ को दुबारा कुल जमाती इजलास तलब करने की हरगिज़ ज़रूरत नहीं है। साबिक़ सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी-ओ-रुक्न क़ानूनसाज़ कौंसल मिस्टर डी सरीनिवास ने ये बात बताई और मौजूदा सदर प्रदेश कांग्रेस कमेटी-ओ-वज़ीर ट्रांसपोर्ट मिस्टर पी सत्य नारायना के इन रिमार्कस पर कि रियासत की तक़सीम के मसला पर अपना मौक़िफ़ तबदील करने की रोशनी में कुल जमाती इजलास तलब किया जाना चाहीए।

इन रिमार्कस पर मिस्टर डी सरीनिवास ने अपने अपने इख़तिलाफ़ राय के मौक़िफ़ का इज़हार किया और बताया कि वसीअ तर पैमाने पर तमाम सयासी जमातों के साथ तबादला-ख़्याल करके राय हासिल करने के बाद ही और बाक़ायदा तौर पर सयासी जमातों की राय तहरीर हासिल करने के बाद ही मर्कज़ी हुकूमत ने रियासत की तक़सीम का फ़ैसले किया।

बताया जाता है कि मिस्टर डी सरीनिवास रुक्न रियास्ती क़ानूनसाज़ कौंसल ने गुज़श्ता दिन राज भवन पहूंच कर रियास्ती गवर्नर मिस्टर ई ऐस एल नरसिम्हन से मुलाक़ात की। मिस्टर सरीनिवास जो गुज़श्ता चार पाँच यौम दिल्ली में क़ियाम करके कांग्रेस हाईकमान के आला क़ाइदीन के इलावा मर्कज़ी क़ाइदीन से मुलाक़ात के बाद हैदराबाद वापसी के साथ ही रियास्ती गवर्नर से मुलाक़ात को सयासी हलक़ों में काफ़ी एहमीयत दी जा रही है।

दिल्ली के हालात, चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी का तर्ज़ अमल, रियासत की तक़सीम का अमल जैसे अहम मौज़ूआत रियास्ती गवर्नर और मिस्टर सरीनिवास के माबैन हुई बातचीत के अहम नुकात होने की इत्तिलाआत हैं।

TOPPOPULARRECENT