Saturday , December 16 2017

मर्कज़ पर ममता की फिर तन्क़ीद, माली इमदाद फ़राहम ना करने का इल्ज़ाम

चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी ने आज फिर ये इल्ज़ाम आइद किया है कि उनकी हुकूमत को मर्कज़ की तरफ़ से माली इमदाद फ़राहम नहीं की जा रही है। उन्होंने कहा कि वो एक ऐसी तबाह हाल रियासत को चला रही हैं जिसको कोई हराज में ख़रीदना भी गवार

चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी ने आज फिर ये इल्ज़ाम आइद किया है कि उनकी हुकूमत को मर्कज़ की तरफ़ से माली इमदाद फ़राहम नहीं की जा रही है। उन्होंने कहा कि वो एक ऐसी तबाह हाल रियासत को चला रही हैं जिसको कोई हराज में ख़रीदना भी गवारा नहीं करेगा।

बाएं बाज़ू महाज़ के 35 साला इक़्तेदार ने इस रियासत को बुरी तरह बदहाली का शिकार बना दिया है। ममता ने दावा किया कि मग़रिबी बंगाल की मदद के लिए मर्कज़ ने एक पैसा भी नहीं दिया है, और सिर्फ वो (बनर्जी) ही जानती है कि माली इम्दाद के बगै़र किस मुश्किल से वो अपनी हुकूमत चला रही हैं।

बनर्जी ने कहा कि बाएं बाज़ू महाज़ ने मग़रिबी बंगाल पर क़र्ज़ का भारी बोझ छोड़ा है। रियासत को 21 हज़ार करोड़ रुपये की आमदनी हो रही है, जबकि हम मरकज़ को महसला क़र्ज़ की अदायगी और इस पर आइद सूद के तौर पर 22,000 करोड़ रुपये अदा कर रहे हैं। मिस बनर्जी ने कहा कि विरसा में हमें ख़ाली ख़ज़ाना मिला है। आप ही बताएं कि हम अपनी हुकूमत चलाने के लिए पैसा कहां से लायेंगे।

बी सी राय दवाख़ाना इतफ़ाल के लिए संग-ए-बुनियाद रखने के बाद एक तक़रीब से ख़िताब करते हुए उन्होंने कहा कि क्या में कोई ख़ुदा हूँ कि जो ख़ाहिश करूँ, वो अज़खु़द पूरी हो जाए?

TOPPOPULARRECENT