मलाला कनाडा की सबसे बहादुर नागरिक हैं: कनेडियन प्रधानमंत्री

मलाला कनाडा की सबसे बहादुर नागरिक हैं: कनेडियन प्रधानमंत्री
Click for full image

ओट्टावा: नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला योसफज़ई ने कहा है कि कनाडा की मानद नागरिकता मिलने पर वह अच्छा महसूस कर रही हैं। यह उपलब्धि हासिल करने वाली वह छट्टी व्यक्ति हैं, जबकि 19 साल की उम्र में यह सम्मान पाने वाली सबसे युवा व्यक्ति भी हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

बीबीसी की खबरों के मुताबिक़ कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो ने उनके काम की सराहना की और उन्हें ‘कनाडा की सबसे नई और शायद बहादुर नागरिक’ भी करार दिया।
ओट्टावा में एक सरकारी समारोह में मलाल ने कनाडा के नेताओं से कहा कि वे अपने प्रभाव का उपयोग दुनिया में लड़कियों की शिक्षा के लिए धन जुटाने में करेंगी जिन में शरणार्थी शामिल हैं। मलाला महिलाओं के अधिकार और शिक्षा की विश्व अनुयायी हैं।

पाकिस्तान की छात्रा और कार्यकर्ता मलाला को यह मानद नागरिकता अक्टूबर 2014 में ही दी जानी थी जब तत्कालीन सरकार ने उन्हें इस सम्मान से सम्मानित करने का फैसला किया था। लेकिन वह समारोह एक गार्ड नाथन सरललो की गोलीबारी में मौत और संसद पर हमले की वजह से रद्द कर दी गई थी।

गौरलतब है कि मलाला से पहले जिन पांच लोगों को यह कनाडा की मानद नागरिकता दी गई है उनमें नेल्सन मंडेला, दलाई लामा, धर्मगुरु आगा खान, स्वीडन के कूटनीतजन राउल वीलैंबर्ग और म्यांमार की नेता आंग सान सूकी शामिल हैं।

Top Stories