Friday , December 15 2017

शिवसेना ने मलाला के बारे में अहम ऐलान कर दिया… लोग हैरान

मुम्बई: हमेशा पाकिस्तान की मुखालिफत करने वाली शिवसेना का यह कदम किसी को भी हैरत में डाल सकता है। शिवसेना के सीनीयर लीडर संजय राउत ने कहा है कि शिवसेना चाहती है कि मरकज़ी हुकूमत नोबल इनाम और बच्चो की तालीम वाली कारुकुना मलाला यूसुफजई को हिंदुस्तान आने के लिए मदऊ करे और वह हिंदुस्तान और पाकिस्तान के बीच अमन का सफीर बने। पार्टी ने दहशतगर्द के खिलाफ मलाला की लड़ाई की भी तारीफ की है।

गुजश्ता कुछ हफ्ते में पाकिस्तान मुखालिफ मुज़ाहिरा करने वाले भगवा तंज़ीम के सीनीयर लीडर ने यह भी कहा कि मलाला अमन शांति की सच्ची सफीर है क्योंकि उसने अमन को बढ़ावा देने के लिए अपना खून बहाया है। राउत ने यह भी कहा कि अगर पाकिस्तान में सिर्फ सौ मलाला हो जाएं तो मुल्क से हमेशा के लिए दहशतगर्दी का खात्मा हो जाएगा। मलाला को 2012 में तालिबान ने गोली मार दी थी हालांकि वह बच गई और इसके बाद से वह ब्रिटेन में रह रही है। उसे पिछले साल हिंदुस्तान के कैलाश सत्यार्थी के साथ अमन का नोबल अवार्ड दिया गया था।

शिवसेना ने कहाकि हम खुले दिल से मलाला का इस्तेकबाल करेंगे। मलाला और खुर्शीद कसूरी जैसे सियासतदान में दिन रात का फर्ख है। कसूरी ने हमेशा दहशतगर्द की ताइद किया। उनके जैसे सियासतदां हिंदुस्तान के खिलाफ छठी जंग छेड़ने के लिए दहशतगर्दों की मदद करते हैं।

लेकिन मलाला ने पाकिस्तान की जमीन पर दहशतगर्द के खिलाफ जंग छेड़ी है। अपने मकसद के लिए लड़ने को उसने गोलियां भी खाई और तकरीबन अपनी जान भी गंवा दी थी। पूरी दुनिया को उससे सबक सीखने की जरूरत है।

TOPPOPULARRECENT