Saturday , December 16 2017

मलाला यूसुफज़ई को मिलेगा ‘चिल्ड्रेन नोबेल’

तालिबान की गोली का निशाना बनने वाली पाकिस्तानी लड़की मलाला यूसुफज़ई को लड़कियों की तालीम की पैरवी करने के लिए व‌र्ल्ड चिल्ड्रेन प्राइज से नवाजा जाएगा। इस अवार्ड को चिल्ड्रेन नोबेल के नाम से भी जाना जाता है।

तालिबान की गोली का निशाना बनने वाली पाकिस्तानी लड़की मलाला यूसुफज़ई को लड़कियों की तालीम की पैरवी करने के लिए व‌र्ल्ड चिल्ड्रेन प्राइज से नवाजा जाएगा। इस अवार्ड को चिल्ड्रेन नोबेल के नाम से भी जाना जाता है।

इंटरनेशनल प्राइज ज्यूरी के मेम्बर लिव कजेलबर्ग ने कहा कि वह खुद एक लड़की हैं और पाकिस्तान ही नहीं पूरी दुनिया में लड़कियों की तालीम के हुकूक की वकालत कर रही हैं। 16 साला मलाला को पिछले साल नोबेल अमन अवार्ड के लिए नामज़द किया गया था। 2012 में तालिबान के हमले में जख्मी होने के बाद उन्हें इलाज के लिए ब्रिटेन लाया गया था। तब से वह यहीं पर रह रही हैं। इस अवार्ड की इब्तेदायी साल 2000 में हुई थी।

मलाला के इलावा इस साल के अवार्ड के लिए दो दिगर नामों का भी ऐलान किया गया है। इनमें अमेरिका में एजुकेशन चैरिटी रूम टू रीड की तंसीब करने वाले जॉन वुड और नेपाल की सामाज़ी कारकुन इंदिरा रामानागर शामिल हैं। इंदिरा कैदी बच्चों की मदद करती हैं। तीनों फातेह एक लाख डॉलर [करीब 62 लाख रुपये] का रकम आपस में साझा करेंगे। यह अवार्ड आइंदा अक्तूबर में स्टाकहोम में एक प्रोग्राम में तक्सीम किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT