Wednesday , December 13 2017

मलेशिया ने संदिग्ध आतंकी लिंक पर आठ लोगों को किया गिरफ्तार

कुआलालंपुर: अबू सय्याफ, डेश ग्रुप और जेमाह इस्लामिया से जुड़े आतंकवादी गतिविधियों में संदिग्ध सहभागिता के लिए मलेशिया ने चार विदेशी और चार मलेशियाई को गिरफ्तार किया है, पुलिस ने शनिवार को यह सूचना दी।

गिरफ्तार विदेशियों में तीन फिलिपिनो थे, जिनमें से एक मलेशिया में स्थायी निवासी और एक अल्बेनियन है।

27 सितंबर और 6 अक्टूबर के बीच सबा, सेलंगोर और पेराक राज्यों में यह गिरफ्तारी की गयी थी।

सबा के बोर्नियो राज्य में पांच संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया था, जो अबु सयाफ आतंकवादी समूह की मलेशिया में घुसपैठ की सहायता करने के संदेह में था।

पुलिस ने कहा कि गिरफ्तार हुआ अल्बानियाई एक स्थानीय सार्वजनिक विश्वविद्यालय में एक लॉ लेक्चरर है, जिसका डेश के साथ संपर्क था।

दो अन्य गिरफ्तार किए गए पूर्व अपराधी हैं, जिन्हें आतंकवादी गतिविधियों में भाग लेने के पहले 2016 में दोषी पाया गया था।

एक को जेल में अपराधियों की भर्ती के आरोप में गिरफ्तार किया गया था और मलेशिया में ईसाई और हिंदू पूजा स्थलों पर हमले की योजना बना रहा था। यह भी कहा जाता है कि तनीज़िम अल-क़ायदा मलेशिया के एक सदस्य, जेमाह इस्लामिया से जुड़ा एक समूह, जो बड़े पैमाने पर रहता है।

दूसरा, दो मलेशियाई की भर्ती करने के लिए संदिग्ध का एक साथी था।

मलेशिया ने आतंकवादी समूहों के लिए संदिग्ध लिंक के लिए पिछले कुछ सालों में सैकड़ों लोगों को गिरफ्तार किया है।

दक्षिण पूर्व एशियाई देश उच्च चेतावनी पर रहा है क्योंकि जनवरी 2016 में आत्मघाती हमलावरों और डेश से जुड़े बंदूकधारियों ने जकार्ता में पड़ोसी इंडोनेशिया की राजधानी में कई हमलों की शुरुआत की।

पिछले साल जून में मलेशियाई राजधानी कुआलालंपुर के बाहरी इलाके में एक बार ग्रेनेड हमले में आठ लोग घायल हुए थे। डेश ने इन हमलों की जिम्मेदारी ली थी, मलेशियन मिट्टी पर यह अब तक का पहला हमला है।

TOPPOPULARRECENT