मवेशीयों के गोश्त के ज़्यादा इस्तेमाल से मादा का कैंसर

मवेशीयों के गोश्त के ज़्यादा इस्तेमाल से मादा का कैंसर
अमेरीकी माहिरीन ने कहा है कि सुर्ख़(लाल रंग‌) गोश्त के ज़्यादा इस्तिमाल से मादे के कैंसर के इमकानात(संभावना) बढ़ जाते हैं। माहिरीन के मुताबिक़ सुर्ख़ गोश्त में ज़रूरत से ज़्यादा फ़ौलाद पाया जाता है

अमेरीकी माहिरीन ने कहा है कि सुर्ख़(लाल रंग‌) गोश्त के ज़्यादा इस्तिमाल से मादे के कैंसर के इमकानात(संभावना) बढ़ जाते हैं। माहिरीन के मुताबिक़ सुर्ख़ गोश्त में ज़रूरत से ज़्यादा फ़ौलाद पाया जाता है

जिस के बाइस इस से मादे के कैंसर के इमकानात बढ़ जाते हैं जबकि जिस्म को एक ख़ास मिक़दार में आयरन की ज़रूरत होती है। इस लिए सुर्ख़ गोश्त के ज़्यादा इस्तेमाल से इजतिनाब(बचाव‌) करना चाहीए और इस का कम से कम इस्तेमाल करना चाहीए।

Top Stories