Friday , December 15 2017

मशकूक(संदिग्ध) फैसलों पर वुज़रा(मंत्री) ख़ामोश तमाशाई बने नहीं रह सकते हैं

तेलगू देशम पार्टी ने कहा कि इस वक़्त की वाई एस राज शेखर रेड्डी काबीना में मौजूद वुज़रा(मंत्री) हुकूमत की जानिब से किए गए मशकूक(संदिग्ध)फैसलों के बारे में बेख़बर होने का दावा नहीं कर सकते हैं और उन्हें फ़ौजदारी तहकीकात औरअदलिया की

तेलगू देशम पार्टी ने कहा कि इस वक़्त की वाई एस राज शेखर रेड्डी काबीना में मौजूद वुज़रा(मंत्री) हुकूमत की जानिब से किए गए मशकूक(संदिग्ध)फैसलों के बारे में बेख़बर होने का दावा नहीं कर सकते हैं और उन्हें फ़ौजदारी तहकीकात औरअदलिया की जांच पड़ताल का सामना करना होगा ।

तेलगू देशम पार्टी के पोलेट ब्यूरो मैंबर और साबिक़ वज़ीर मिस्टर वाई राम कृष्णो डू ने आज एक बयान में कहा कि काबीना के इजलास से कम से कम एक दो दिन क़ब्ल तमाम ज़रूरी फाइल्स वुज़रा(मंत्री) के पास आती हैं ।

वो ये दावा नहीं कर सकते कि उन्हों ने चीफ मिनिस्टर के दबाव के तहत फाइल्स पर दस्तख़त किए यह उन्हें इस बात का इलम नहीं कि इस में करप्शन थी ये नाक़ाबिल माफ़ी है।

TOPPOPULARRECENT