Tuesday , December 12 2017

मशरिक़े वुस्ता अमन बात-चीत में पेशरफ़्त का दावा

अमरीकी वज़ीरे ख़ारजा जॉन कैरी ने कहा है कि इसराईल और फ़लस्तीनीयों की तरफ़ से किसी हतमी समझौते पर पहुंचना बहुत एहमीयत रखता है, और बताया कि हालिया बात-चीत के नतीजे में काबिले क़दर पेशरफ़्त हुई है।

अमरीकी वज़ीरे ख़ारजा जॉन कैरी ने कहा है कि इसराईल और फ़लस्तीनीयों की तरफ़ से किसी हतमी समझौते पर पहुंचना बहुत एहमीयत रखता है, और बताया कि हालिया बात-चीत के नतीजे में काबिले क़दर पेशरफ़्त हुई है।

ओमान में उर्दन के वज़ीरे ख़ारजा के साथ प्रैस कान्फ़्रैंस करते हुए कैरी ने कहा कि वाज़ेह तनाव के बावजूद इसराईली और फ़लस्तीनी क़ाइदीन ने अमन मुज़ाकरात के हवाले से अपने अज़म का अहद किया है।

उन्हों ने कहा कि इलाक़ाई क़ाइदीन इस बात के क़ाइल हैं कि कोई जामे अमन समझौता मआशी फ़वाइद का हामिल होगा, जिस में स्याहत और तिजारत के मैदान में इज़ाफ़ी आमदनी भी शामिल है।
एक कलीदी मुल्क के तौर पर कैरी ने उर्दन के किरदार को सराहा, जिस के पहले ही उन के बाक़ौल इसराइल और फ़लस्तीनीयों दोनों के साथ सलामती के अहम ताल्लुक़ात क़ायम हैं।

TOPPOPULARRECENT