मशरिक़े वुस्ता में दो ईरान की ज़रूरत नहीं – शमाउन पेरेज़

मशरिक़े वुस्ता में दो ईरान की ज़रूरत नहीं – शमाउन पेरेज़
इसराईल के साबिक़ सदर शमाउन पेरेज़ 2007 ता 2014 सदर के जलीलुल क़दर ओहदा पर फ़ाइज़ रहे उन्हों ने आज एक अहम ब्यान देते हुए कहा कि तुर्की में इंतिख़ाबी नताइज से उन्हें बेहद ख़ुशी हुई है।

इसराईल के साबिक़ सदर शमाउन पेरेज़ 2007 ता 2014 सदर के जलीलुल क़दर ओहदा पर फ़ाइज़ रहे उन्हों ने आज एक अहम ब्यान देते हुए कहा कि तुर्की में इंतिख़ाबी नताइज से उन्हें बेहद ख़ुशी हुई है।

एक कान्फ़्रैंस में अपने ख़िताब के दौरान उन्हों ने कहा कि तुर्की में मुनाक़िदा इंतिख़ाबात के नताइज इसराईल के लिए मुसबत पैग़ाम हैं। तुर्की में जो कुछ हुआ इस के लिए वो बेहद मसरूर हैं। उर्दगान तुर्की को एक और ईरान में तबदील कर देना चाहते थे जबकि मशरिक़े वुस्ता में बैयक वक़्त दो ईरान की ज़रूरत नहीं है।

Top Stories