मशहुर कराची बेकरी को भीड़ के दवाब में ढकना पड़ा दुकान का नाम

मशहुर कराची बेकरी को भीड़ के दवाब में ढकना पड़ा दुकान का नाम

पुलवामा अटैक के बाद जहां कई जगहों पर कश्मीरियों के ऊपर अटैक होने की खबर आ चुकी है, अब कराची बेकरी नाम की दुकान को भी विरोध झेलना पड़ा है. शुक्रवार रात कुछ लोगों ने कराची बेकरी को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया. पुलिस ने कहा है कि देर रात उन्हें फोन पर घटना के बारे में जानकारी दी गई.

लोगों ने दुकान के नाम को लेकर विरोध किया. इसके बाद मजबूरी में दुकान के नाम को ढकना पड़ा. कराची शब्द के ऊपर कवर लगा दिया गया है. यह दुकान काफी पुरानी है.

पुलवामा में सीआरपीएफ के ऊपर हुए अटैक में 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद से ही देशभर में गुस्सा है और विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद ने अटैक की जिम्मेदारी ली थी. \

पुलिस ने कहा है कि कराची बेकरी को लेकर हुए विरोध-प्रदर्शन के दौरान प्रॉपर्टी के नुकसान की खबर नहीं है. विरोध कर रहे लोगों को लगा कि कराची बेकरी एक पाकिस्तानी दुकान है.

पुलवामा अटैक के बाद भारत के कई शहरों में कश्मीरी छात्रों को भी धमकाए जाने की खबरें आई हैं. अटैक के समर्थन करने की वजह से कई कश्मीरी छात्रों पर देशद्रोह का मुकदमा भी किया गया है.

Top Stories