मशहूर डॉक्टर को दिल्ली में ‘जय श्रीराम’ बोलने को किया मजबूर, पूछा उनका धर्म

मशहूर डॉक्टर को दिल्ली में ‘जय श्रीराम’ बोलने को किया मजबूर, पूछा उनका धर्म

पुणे के जाने माने स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. अरुण गद्रे को दिल्ली में बुरे बर्ताव का सामना करना पड़ा है. उनको दिल्ली के कनॉट प्लेस के पास छह अनजान लोगों ने घेरकर जबरन जय श्रीराम के नारे लगवाए. इसके साथ ही उन लोगों ने डॉक्टर का धर्मं भी पूछा.

ये घटना रविवार सुबह हुई जब अरुण गद्रे मोर्निंग वॉक करने निकले थे. गद्रे जंतर मंतर के पास वाईएमसीए में ठहरे हुए थे और उसी दिन इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए उन्हें बिजनौर जाना था.

पुणे के रहने वाले डॉ. अरुण गद्रे ने इस घटना के संबंध में पुलिस में कोई शिकायत नहीं दर्ज कराई है.  लेकिन अपने दोस्त व वरिष्ठ पत्रकार अनंत बागाईतकर से उन्होंने 26 मई की इस घटना का जिक्र किया. बागाईतकर ने बताया, “वह (डॉ. गद्रे) जंतर मंतर के पास वाईएमसी में रह रहे थे. उन्हें अगल दिन बिजनौर में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के कार्यक्रम में भाषण देना था. जब वह सुबह मोर्निंग वॉक पर निकले तो कनॉट प्लेस के हनुमान मंदिर के पास पांच से छह युवाओं ने उन्हें घेर लिया और उनसे उनका धर्म पूछा और ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाने को कहा.”

बागाईतकर ने बताया कि गद्रे ‘हैरान और डरे हुए थे’, पर गद्रे ने इस मामले को उतनी गंभीरता से नहीं लिया. गद्रे ने कहा, ‘‘वाईएमसीए के पास सुबह करीब छह बजे सैर कर रहा था और अचानक मेरा सामना युवाओं के एक समूह से हुआ और मुझे ‘जय श्री राम’ बोलने को कहा गया. मैं चकित रह गया और मैंने वैसा किया. लेकिन उन लोगों ने जोर देकर कहा कि मैं इसे जोर से बोलूं. उन लोगों ने मुझसे पूछा कि अंकल क्या आप हिंदू नहीं हैं.”

Top Stories