Thursday , December 14 2017

मस्जिदे अकसा पर इसराईली पुलिस का दुबारा हमला

मुस्लियों का आँसू गैस की शिद्दत से दम घुटने लगा

मुस्लियों का आँसू गैस की शिद्दत से दम घुटने लगा

मक़बूज़ा बैत-उल-मुक़द्दस में इंतेहापसंद यहूदी तंज़ीमजबल अलहीकल से ताल्लुक़ रखने वाले दसियों कारकुनों की जानिब से क़िबला अव्वल में इबादत की ख़ातिर दाख़िले की कोशिश के बाद इलाक़े की सूरत-ए-हाल कशीदगी का शिकार हो गई है।मस्जिदे अकसा के शोबा निगरानी के सरबराह के मुताबिक़ क़ाबिज़ इसराईली पुलिस ने मस्जिदे अकसा पर मराक़शी दरवाज़े की सिम्त से हमला किया और मस्जिद के अंदर मौजूद मुसल‌मानों को मुंतशिर करने के लिए अंधा धुंद आँसू गैस के शल्स‌ फ़ायर किए।

पुलिस ने मस्जिद में मौजूद मुसल‌मानों का मुहासिरा कर लिया क्योंकि इंतेहापसंद यहूदीयों ने बाद में मस्जिद के दरवाज़े बंद कर दिए। अल-क़ूदस से उलार बया की नामा निगार ने बताया कि पुरानी इलाक़े में इसराईली पुलिस की बड़ी तादाद मौजूद थी। याद रहे कि चंद रोज़ पहले इसराईल ने मस्जिदे अकसा को कुछ मुद्दत के लिए मुकम्मल तौर पर बंद कर दिया था, ताहम बाद में फ़लस्तीन के अंदर और आलिम इस्लाम के शदीद एहतेजाज के हाथों मजबूर हो कर सहयोनी हुक्काम मस्जिद नमाज़ अदाई के लिए दुबारा खोलना पड़ी। 67 में मस्जिद पर क़बज़े के बाद से ये पहली बार हुआ कि मस्जिद को कई घंटों तक नमाज़ केलिए बंद किया गया।

TOPPOPULARRECENT