Saturday , December 16 2017

मस्जिदों में धमाके, 54 ह्लाक्

काबुल, ०७ दिसम्बर : आशूरा [मुहर्रम का दसवां दिन] पर अफगानिस्तान में दो मस्जिदों में हुए बम धमाकों में 54 लोग हलाक् हो गये जबकि 150 लोगों के ज़ख्मी होने की अन्देशा है।

काबुल, ०७ दिसम्बर : आशूरा [मुहर्रम का दसवां दिन] पर अफगानिस्तान में दो मस्जिदों में हुए बम धमाकों में 54 लोग हलाक् हो गये जबकि 150 लोगों के ज़ख्मी होने की अन्देशा है।

ये धमाके काबुल और शुमाली शहर मजार-ए-शरीफ की मस्जिदों में हुए। अभी तक किसी ने इन धमाके की जिम्मेदारी नहीं ली है।

पुलिस के मुताबिक् काबुल की अब-अल-फैजल मस्जिद में बड़ा धमाका हुआ, जिसमें चालीस से ज्यादा लोग मारे गए। मरने वालों सभी शिया मुस्लिम हैं। ये लोग अशूरा मनाने के लिए इकट्ठा हुए थे। वाजेह् है कि तालिबान हुकूमत के वक़्त् में शियाओं के इस् इज़्तॆमा पर अवामी तौर् से मनाने पर रोक लगाई गई थी।

सिक्यॊरिटी फॊर्सॆस् कॆ ज़रायॆ का कहना है कि हमलावर अकीद्तमंदो की भीड़ के साथ मस्जिद में पहुंचा था। वहीं, मजार-ए-शरीफ की मस्जिद में हुए धमाके में चार लोग मारे गए हैं। पुलिस अफसर के मुताबिक, यहां एक साइकल में बम छुपा कर रखा गया था।

ये धमाका अफगानिस्तान के मुस्तक्बिल को लेकर जर्मन शहर बॉन में हुई बैनुल् अक़्वामी कॉन्फ्रेंस के फौरन बाद हुए हैं। तालिबान और पाकिस्तान ने इस कांफ्रेंस से खुद को अलग रखा था।

TOPPOPULARRECENT