Wednesday , December 13 2017

मस्जिद ए अक़्सा पर इंतेहापसंद यहूदीयों का फिर हमला, हालात कशीदा, 4 फ़लस्तीनी गिरफ़्तार

मुस्लमानों के क़िब्ला अव्वल मस्जिद ए अक्सा में इसराईली फ़ौज ने फ़लस्तीनीयों के साथ झड़प की। आज नमाज़ जुमा के मौक़ा पर फ़लस्तीनीयों की कसीर तादाद नमाज़ की अदायगी के लिए मस्जिद ए अक़्सा में जमा थी।

मुस्लमानों के क़िब्ला अव्वल मस्जिद ए अक्सा में इसराईली फ़ौज ने फ़लस्तीनीयों के साथ झड़प की। आज नमाज़ जुमा के मौक़ा पर फ़लस्तीनीयों की कसीर तादाद नमाज़ की अदायगी के लिए मस्जिद ए अक़्सा में जमा थी।

इसराईली फ़ोर्स के साथ तसादुम ( मुठभेड़) के दौरान आँसू गैस शॅल बरसाए गए और संगबारी की गई। इसराईली फ़ोर्स नमाज़ जुमा के बाद मस्जिद के अहाता में दाख़िल हो गई और आँसू गैस शॅल बरसाए। धमाकों की आवाज़ भी सुनाई दी जिससे नमाज़ से वापस होने वाले हुजूम में उलझन पैदा हो गई।

जुमा के मौक़ा पर यहूदी इंतहापसंदों ने भी मस्जिद ए अक़्सा पर धावा किया। इनकी कोशिशों को नाकाम बनाने के लिए फ़लस्तीनी नौजवानों ने यहूदी फ़ौज पर संगबारी की। नमाज़ के मौक़ा पर यरूशलम में सख़्त सिक्योरिटी इक़दामात किए गए थे। इसराईली फ़ौज ने मस्जिद से 4 फ़लस्तीनीयों को गिरफ़्तार किया है जो झड़पों के दौरान संगबारी कर रहे थे।

दो दिन क़ब्ल भी फ़ौज ने 21 फ़लस्तीनीयों को गिरफ़्तार किया था। क़िब्ला अव्वल पर बदनिगाही रखने वाली इसराईली फ़ौज और इंतेहापसंद यहूदीयों ने यहां तोड़ फोड़ मचाई थी। मस्जिद ए अक़्सा पर इंतेहापसंदों के हमलों और यहूदी बाज़ आबादकारों की जानिब से शर अंगेज़ी की फ़लस्तीनी अथॉरीटी काबीना ने शदीद मुज़म्मत की है।

यहूदीयों ने मस्जिद ए अक़्सा में कई मज़हबी नारे तहरीर किए हैं जिससे मुस्लमानों के जज़बात भड़क उठे और कशीदगी फैल गई। फ़लस्तीनी अथॉरीटी ने इस वाक्या के लिए इसराईली हुकूमत को ज़िम्मेदार ठहराया। मस्जिद ए अक़्सा में कशीदगी उस वक़्त बढ़ गई जब इसराईल के सियासतदां मोशी फ़गलीन गुज़श्ता हफ़्ता इस मुक़ाम का दौरा करते हुए उसे शोहरत देने की कोशिश की थी।

इस मौक़ा पर वरक़ीए भी तक़सीम किए गए थे जिसमें लिखा हुआ था कि मस्जिद ए अक़्सा से इसराईल के दुश्मनों को निकाल बाहर किया जाये। इस वाक़्या के बाद फ़लस्तीनीयों में गुम-ओ-ग़ुस्सा पैदा हुआ और वो यहूदीयों के ख़िलाफ़ मुज़ाहिरे करने लगे। हरमैन शरीफ़ैन के बाद मुस्लमानों के तीसरे मुक़द्दस मुक़ाम मस्जिद ए अक़्सा पर इंतेहापसंद यहूदीयों के हमले तेज़ हो गए हैं। आज सुबह फिर एक बार इंतेहापसंद यहूदी टोले ने क़िब्ला अव्वल पर धावा बोल दिया।

इनकी ढाल बनते हुए यहूदी फ़ौज की बड़ी तादाद ने नमाज़ जुमा के लिए जमा होने वाले फ़लस्तीनीयों को मस्जिद में दाख़िल होने से रोक दिया। गुज़श्ता इतवार से आज मुसलसल पांचवें रोज़ भी ग़ासिब यहूदीयों के जत्थों की मस्जिद ए अक़्सा आमद जारी रही।

बैत-उल-मुक़द्दस के ज़राए के मुताबिक़ मस्जिद ए अक़्सा में मौजूद फ़लस्तीनी मुस्लमानों ने मराक़शी दरवाज़े से दाख़िल होने वाले यहूदीयों का डट कर मुक़ाबला किया। अल‍ अक़्सा फ़ाउंडेशन बराए वक़्फ़-ओ-आसारे क़दीमा के मुताबिक़ इसराईली फ़ौज ने मस्जिद को चारों तरफ़ से घेरे में ले रखा है।

मस्जिद में दाख़िल होने के तमाम दरवाज़ों पर यहूदी फ़ौज का पहरा है। फ़लस्तीनी ख्वातीन से भी उनकी शनाख़्त तलब की जा रही है। वाज़िह रहे कि अल-ख़लील शहर की यहूदी बस्ती कुरियात अर्बा की इंतेहापसंद यहूदी जमातों ने मस्जिद ए अक़्सा पर इजतिमाई हमले का ऐलान कर दिया है।

दूसरी जानिब फ़लस्तीनी दीनी और सयासी-ओ-क़ौमी क़ियादत ने मुस्लमानों से भी मस्जिद में नमाज़ की अदायगी के लिए जौक़ दरजोक़ आने की अपील की है। इंतेहापसंद यहूदीयों ने मस्जिद ए अक़्सा को गिराने के लिए फंड्स इकट्ठा करने का काम शुरू कर दिया है।

यहूदी यहां हर हैकल सुलेमानी तामीर करने के लिए बढ़ चढ़ कर माली-ओ-जानी तआवुन का पेशकश कर रहे हैं। ग़ासिब यहूदी टोले गलीयों और शाहराहों पर रैलियां निकाल कर मस्जिद ए अक़्सा की जगह हैकल सुलेमानी की तामीर को कामयाब बनाने की अपील कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT