मस्जिद पर हमला यह दर्शाता है कि इस्लाम और मुस्लिमों के खिलाफ विरोध कितना बढ़ चुका है- तुर्की

मस्जिद पर हमला यह दर्शाता है कि इस्लाम और मुस्लिमों के खिलाफ विरोध कितना बढ़ चुका है- तुर्की

 न्यू जीलैंड की दो मस्जिदों में शुक्रवार को हुए शूटआउट ने पूरी दुनिया के मुस्लिम समुदाय के लोगों को हिलाकर रख दिया है। दुनियाभर के मुस्लिम देशों के नेताओं ने इस हमले की कड़ी निंदा की है, शुक्रवार सुबह की नमाज के दौरान 2 मस्जिदों पर हुए हमले में 49 लोगों की मौत हुई है।

दुनिया में सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाले देश इंडोनेशिया ने हमले की कड़ी निंदा की है, इंडोनेशिया के विदेश मंत्री रेटनो मारसुदी ने बयान जारी कर कहा है कि शुक्रवार की प्रार्थना के लिए जमा हुए लोगों पर मस्जिद में किए गए हमले की उनका देश कड़ी निंदा करता है।

वहीँ तुर्की के राष्ट्रपति एर्डोगन के प्रवक्ता ने न्यूजीलैंड में हुए हमले को एक फासीवादी हमला बताया है, उन्होंने ट्विटर हेंडल पर लिखा कि यह घटना दर्शाती है कि इस्लाम और मुस्लिमों के खिलाफ विरोध कितना बढ़ चुका है।

मुस्लिम बहुल दक्षिण पूर्वी एशियाई देश मलेशिया के सबसे बड़े राजनीतिक दल के नेता अनवर इब्राहिम ने इस घटना को ‘ब्लैक ट्रेजेडी’ का नाम दिया है, उन्होंने कहा है कि वह इस अमानवीय घटना से बहुत आहत हैं।

 

Top Stories