Thursday , December 14 2017

मस्जिद में बम धमाका: 20 लोगों की मौत

बगदाद , 20 जुलाई: आफीसरों का कहना है कि वस्ती इराक (Central Iraq) वाकेए सुन्नी मुसलमानों की मस्जिद में एक बम धमाका हुआ है। इस धमाके में कम से कम 20 लोगों के मारे जाने की तस्दीक हुई है।

बगदाद , 20 जुलाई: आफीसरों का कहना है कि वस्ती इराक (Central Iraq) वाकेए सुन्नी मुसलमानों की मस्जिद में एक बम धमाका हुआ है। इस धमाके में कम से कम 20 लोगों के मारे जाने की तस्दीक हुई है।

पुलिस का कहना है कि यह धमाका दियाला के शहर वाजिहिया में वाकेए अबू बकर अल-सादिक मस्जिद में हुआ। धमाके में करीब 40 लोग ज़ख्मी हुए हैं।

अकवाम मुत्तहिदा ( UN) द्वारा इस महीने जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक 2,500 से ज़्यादा पिछले कई दिनों से जारी तशद्दुद में मस्जिदों को मुसलसल निशाना बनाया जा रहा है।

इराकी इन हमलों के शिकार हुए हैं।

ऐनी शाहिदीन ओमार मुंधिर ने बताया, “मैं मस्जिद के इमाम के पास ही बैठा था। मस्जिद में काफ़ी तादाद में लोग मौजूद थे। तभी एक धमाका हुआ और चारों तरफ घना अंधेरा छा गया।”

उमर को इस धमाके में पांव में चोट आई है।

उन्होंने न्यूज़ एजेंसी एएफ़पी को बताया, “मैंने बाद में खुद को अस्पताल की ज़मीन पर पड़ा पाया। आस-पास कई ज़ख्मी पड़े थे।”

दियाला ऐसा सूबा है जहां मुसलमानों की मिली जुली आबादी है।

मुकामी अफीसर सादिक अल-हुसैन ने कहा कि हमले से मुतास्सिर होने वाले सभी लोग शहरी है। उन्होंने लोगों से अमन बनाए रखने की अपील की है।

उन्होंने न्यूज़ एजेंसी को बताया, “शिद्दत पसंद दियाला के चप्पे चप्पे को अपना निशाना बना रहे है। कब्रगाह, फुटबॉल मैदान समेत सुन्नी और शिया मुसलमानों के मस्जिदों पर हमले किए जा रहे हैं। शिद्दत पसंदो की मंशा इस इलाके को फिर्कावाराना तसादुम का इलाका बना देना है।”

माना जा रहा है कि सुन्नी और शिया फिर्के के बीच तीखे होते तनाव की वजह से तशद्दुद के वाकियात में काफी तेज़ी आई है। सुन्नी फिर्के की शिकायत है कि शिया की कियादत में बनी हुकूमत में वज़ीर ए आज़म नूरी मलिकी की तरफ से उन्हें हाशिए पर धकेलने की कोशिशें की जा रही हैं।

TOPPOPULARRECENT