महकमा अक़्लीयती बहबूद और वक़्फ़ बोर्ड नींद से बेदार

महकमा अक़्लीयती बहबूद और वक़्फ़ बोर्ड नींद से बेदार
Click for full image

मनीकोंडा में वाक़े दरगाह हज़रत हुसैन शाह वली की 3 एकड़ वक़्फ़ अराज़ी को सिख गुरुद्वारा साहिब जी और साउथ इंडिया को अलाट करने से मुताल्लिक़ कार्रवाई के बारे में मीडिया के इन्किशाफ़ के बाद महकमा अक़्लीयती बहबूद बेदार हुआ है।

20 नवंबर को डिप्टी कलेक्टर और तहसीलदार राजिंदर नगर मंडल की जानिब से अलाटमेंट के बारे में एतराज़ात की वसूली से मुताल्लिक़ आलामीया की इजराई के बाद महकमा माल ने खु़फ़ीया तौर पर कार्रवाई अंजाम देते हुए वक़्फ़ अराज़ी को गुरुद्वारा के लिए अलाट करने की मुकम्मल तैयारी करली।

बताया जाता है कि डिप्टी कलेक्टर की नोटिस पर किसी भी जानिब से एतराज़ वसूल नहीं हुआ जिस पर उन्होंने अलाटमेंट के हक़ में सिफ़ारिश करते हुए फाईल ज़िला कलेक्टर रंगा रेड्डी को रवाना कर दी।

ये मुआमला अलाटमेंट के मरहला में था कि रोज़नामा सियासत ने इस मुआमलत को बेनक़ाब किया, जिसके बाद महकमा अक़्लीयती बहबूद और वक़्फ़ बोर्ड नींद से बेदार हुआ और ज़िला कलेक्टर और चीफ कमिशनर लैंड सर्वे को नुमाइंदगी की गई।

वक़्फ़ बोर्ड के ओहदेदार मजाज़ और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफीसर ने इस मसला पर कलेक्टर और दीगर ओहदेदारों को मकतूब रवाना करते हुए सुप्रीमकोर्ट में जारी मुक़द्दमा से वाक़िफ़ कराया।

Top Stories