Monday , January 22 2018

महाराष्ट्र वज़ारत से राणे के इस्तीफ़ा का इम्कान

महाराष्ट्र के वज़ीर-ए-सनअत नारायण राणे ने आज ऐलान किया कि वो 21 जुलाई को पृथ्वी राज चौहान वज़ारत से मुस्ताफ़ी होजाएंगे। उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर के तर्ज़ अमल पर नाराज़गी का इज़हार किया है।

महाराष्ट्र के वज़ीर-ए-सनअत नारायण राणे ने आज ऐलान किया कि वो 21 जुलाई को पृथ्वी राज चौहान वज़ारत से मुस्ताफ़ी होजाएंगे। उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर के तर्ज़ अमल पर नाराज़गी का इज़हार किया है।

राणे कहा कि वो कोंकण इलाक़ा का दौरा करेंगे और इस्तीफ़ा देने से क़बल अपने हामियों से मुशावरत करेंगे। उन्हों ने कहा कि वो पार्टी में बरक़रार रहेंगे ताहम किस हैसियत में रहेंगे इस का फ़ैसला नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि वो अपने सियासी मंसूबों का पीर को ऐलान करेंगे।

नारायण राणे ने मीडिया से बातचीत करते हुए अपने अज़ाइम का ऐलान किया ताहम इससे क़बल उन्होंने मुंबई में महाराष्ट्र इंडस्ट्रीयल डवलप्मेंट कारपोरेशन दफ़्तर का दौरा किया और वहां ओहदेदारों से कहा कि आइन्दा हफ़्ते से उनके वज़ीर नहीं रहेंगे। उन्होंने पहले भी इस्तीफ़ा की पेशकश की थी जब लोक सभा इंतिख़ाबात में पार्टी की हार‌ हुई थी।

उनकी इस पेशकश को चीफ़ मिनिस्टर पृथ्वी राज चौहान ने क़बूल नहीं किया था। कहा जा रहा है कि राणे चाहते थे कि ख़ुद चौहान भी कांग्रेस की शिकस्त की ज़िम्मेदारी क़बूल करते हुए मुस्ताफ़ी होजाएं। वो कई मर्तबा काबीना के इजलास से भी नाराज़गी का इज़हार करते हुए वापिस होगए थे।

TOPPOPULARRECENT