महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने की कवायद शुरू, नवाब मलिक बोले शिवसेना का होगा सीएम

महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने की कवायद शुरू, नवाब मलिक बोले शिवसेना का होगा सीएम

महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने के लिए करीब शिवसेना के करीब आई एनसीपी ने कहा है कि सीएम की पोस्‍ट को लेके ही शिवसेना-बीजेपी के बीच में विवाह हुआ निश्‍चितरूप में सीएम शिवसेना का ही होगा. शिवसेना को अपमानित किया गया है, उनका स्‍वाभिमान बनाए रखना हमारी जिम्‍मेदारी बनती है.

ये बात राष्‍ट्रवादी कांग्रेस के नेता व प्रवक्‍ता नवाब मलिक ने शुक्रवार को कही है. एनसीपी नेता मलिक ने कहा, सवाल बार-बार पूछा जा रहा है कि शिवसेना का सीएम होगा क्‍या? सीएम की पोस्‍ट को लेके ही शिवसेना-बीजेपी के बीच में विवाह हुआ, तो निश्चितरूप से सीएम शिवसेना का होगा. शिवसेना को अपमानित किया गया है, उनका स्‍वाभिमान बनाए रखना हमारी जिम्‍मेदारी है.

वहीं, शिवसेना ने भी सीएम के पद को लेकर बयान दिया है. जब शिवसेना नेता संजय राउत ने सवाल पूछा गया कि यदि शिवसेना का सीएम होता है तो वह पांच साल के लिए होगा या 2.5 साल-2.5 साल के लिए एनसीपी- शिवसेना से होगा? तो उन्‍होंने कहा, हम तो चाहते हैं कि आने वाले 25 साल तक शिवसेना का सीएम रहे, आप 5 साल की बात क्‍यों करते हैं.

बता दें कि गुरुवार को महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने के फार्मूले को लेकर कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के नेताओं की बैठक हुई थी. सरकार गठन के लिए संभावित गठबंधन को अंतिम रूप देने से पहले कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के नेताओं ने न्यूनतम साझा कार्यक्रम तैयार करने के लिए मुंबई में बैठक की. एनसीपी के सूत्रों ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष शरद पवार दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर सकते हैं.

वहीं, कांग्रेस के एक सीनियर नेता ने कहा, कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन और शिवसेना के नेताओं ने सरकार के साझा एजेंडे
पर सहमति बनाने के लिए मुलाकात की. इस साझा एजेंडे को न्यूनतम साझा कार्यक्रम कहा जाएगा. उन्होंने कहा कि न्यूनतम
साझा कार्यक्रम के मसौदे को अंतिम रूप देने से पहले तीनों दलों के सर्वोच्च नेताओं से मंजूरी की जरूरत होगी.

Top Stories