Monday , December 18 2017

महिकमा अक़लियती बहबूद के लिए 42 करोड़ 31लाख रुपये की इजराई

तेलंगाना हुकूमत की तशकील के बाद पहली मर्तबा महिकमा अक़लियती बहबूद के लिए बजट जारी किया गया। प्रिंसिपल सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद टी राधा ने जुमला 8 मुख़्तलिफ़ जी औज़ जारी करते हुए अक़लियती इदारों के लिए 42 करोड़ 31लाख 91हज़ार रुपये जारी क

तेलंगाना हुकूमत की तशकील के बाद पहली मर्तबा महिकमा अक़लियती बहबूद के लिए बजट जारी किया गया। प्रिंसिपल सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद टी राधा ने जुमला 8 मुख़्तलिफ़ जी औज़ जारी करते हुए अक़लियती इदारों के लिए 42 करोड़ 31लाख 91हज़ार रुपये जारी किए।

जी ओ आर टी 8 के तहत अक़लियती हॉस्टलस और अक़ामती मदारिस के लिए मंसूबा जाती बजट के तहत 4 करोड़ 81लाख 25हज़ार रुपये मंज़ूर किए गए।

मालीयाती साल 2014-15के तहत ये रक़म मंज़ूर की गई। इस रक़म के ज़रीया हॉस्टलस और अक़ामती मदारिस की तामीर और उनके अख़राजात की तकमील की जाएगी।

जून, जुलाई और अगसट के लिए ये रक़म मंज़ूर की गई है। जी ओ आर टी 7 के तहत उर्दू घर शादी ख़ानों की तामीर, रियासती हज कमेटी, सी ई डी एम और सर्वे कमिशनर वक़्फ़ की इमदाद के लिए 3 करोड़ 86 लाख 39 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए।

उर्दू घर शादी ख़ानों की तामीर के लिए एक करोड़ 8 लाख 69 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए। इस इस्कीम पर अमल आवरी उर्दू एकेडेमी की तरफ से की जाती है।

रियासती हज कमेटी की इमदाद के तौर पर 27 लाख 57 हज़ार रुपये मंज़ूर किए गए।
सेंटर फ़ार एजूकेशनल डेवलपमेंट आफ़ माइनॉरिटीज़ के लिए 40 लाख 50 हज़ार और सर्वे कमिशनर वक़्फ़ के लिए 2 करोड़ 9 लाख 63 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए।

कमिशनर अक़लियती बहबूद तेलंगाना को इस रक़म के हुसूल और मुताल्लिक़ा इदारों में तक़सीम कीया है। जी ओ आर टी 6 के तहत वक़्फ़ बोर्ड, दाइरत उलमारफ़ उस्मानिया यूनीवर्सिटी, उर्दू एकेडेमी की इमदाद, ग़रीब अक़लियतों की इजतिमाई शादीयों और बैंकों से मरबूत सब्सीडी की फ़राहमी से मुताल्लिक़ इस्कीमात के लिए 25 करोड़ 35 लाख 89 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए।

इस रक़म में वक़्फ़ बोर्ड के लिए 7 करोड़ 13 लाख 3 हज़ार रुपये, दाइरत उलमारफ़ की इमदाद के तौर पर 50 लाख, उर्दू एकेडेमी के लिए एक करोड़ 64 लाख 24 हज़ार, इजतिमाई शादीयों के लिए 65 लाख 14 हज़ार, बैंकों से मरबूत सब्सीडी इस्कीम के लिए 15 करोड़ 43 लाख 48 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए।

इजतिमाई शादीयों की इस्कीम पर अमल आवरी अक़लियती बहबूद कमिशनेरायट की तरफ से की जाती है जबकि सब्सीडी की इजराई अक़लियती फाइनैंस कारपोरेशन के ज़िम्मा है।

जी ओ आर टी 5 के तहत अक़लियतों की समाजी और मआशी सूरत-ए-हाल और उनके तरक़्क़ीयाती प्रोग्रामों का जायज़ा लेने से मुताल्लिक़ इस्कीम के लिए एक करोड़ 99 लाख 4 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए।

इस इस्कीम पर अमल आवरी अक़लियती बहबूद कमिशनेरायट की तरफ से की जाएगी। जी ओ आर टी 4 के तहत क्रिस्चियन फाइनैंस कारपोरेशन और अक़लियती फाइनैंस कारपोरेशन की इस्कीमात के लिए 5 करोड़ 49 लाख 34 हज़ार रुपये जारी किए गए जिन में क्रिस्चियन फाइनैंस कारपोरेशन को 8 लाख 13 हज़ार और अक़लियती फाइनैंस कारपोरेशन को दो अलाहिदा मिदाद के तहत एक करोड़ 8 लाख 11 हज़ार और 4 करोड़ 33 लाख 10 रुपये मुख़तस किए गए।

जी ओ आर टी 3 के तहत अक़लियती बहबूद के ज़िलई दफ़ातिर के लिए तीन माह के अख़राजात के तौर पर 31लाख 45हज़ार रुपये मुख़तस किए गए। ये रक़म तेलंगाना के 10 अज़ला में ज़िलई दफ़ातिर के मुलाज़मीन की तनख़्वाहों और दुसरे ज़रूरीयात पर ख़र्च की जाएगी। जी ओ आर टी 2 के तहत कमिशनेरायट अक़लियती बहबूद के हेडक्वार्टर के सहि माही अख़राजात के लिए 32 लाख 94 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए।

ये रक़म हेडक्वार्टर के मुलाज़िमीन और ओहदेदारों की तनख़्वाहों और दुसरे ज़रूरीयात पर ख़र्च की जाएगी। जी ओ आर टी 1 के तहत दाइरतउल मारफ़ उस्मानिया यूनीवर्सिटी और उर्दू एकेडेमी की मुख़्तलिफ़ इस्कीमात पर अमल आवरी के लिए 15 लाख 61 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए जिन में दाइरतउल मारफ़ के लिए 36 हज़ार, उर्दू एकेडेमी को दू मिदाद के तहत अली उल-तरतीब 13 लाख 32 हज़ार और एक लाख 30 हज़ार जबकि यौमिया और मामूल मद के तहत 63 हज़ार रुपये मुख़तस किए गए।

TOPPOPULARRECENT