Tuesday , September 18 2018

महिलाओं की मर्यादा का सम्मान जब संसद में नहीं किया जाता, तो सड़क पर क्या हालत होगी- रेणुका चौधरी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री की पिछले दिनों की गई टिप्पणी से आहत कांग्रेस की रेणुका चौधरी ने आज कहा कि जब संसद में महिलाओं की मर्यादा का सम्मान नहीं किया जाता तो सड़क पर उनकी क्या हालत होगी और ऐसे में निर्भया कोष की जरूरत ही क्या है। उन्होंने राज्यसभा में आम बजट पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए कहा कि बजट में निर्भया कोष में कमी की गयी है।

चौधरी ने कहा कि इस कोष की शुरूआत पीड़ित महिलाओं को राहत और सम्मान देने के लिए की गयी थी। लेकिन जहां तक महिलाओं की मर्यादा का सवाल है प्रधानमंत्री ही इस सदन में एक महिला की बेइज्जती करते हैं और गृह मंत्री जिनकी जिम्मेदारी सबकी सुरक्षा करने की हैं वह उस बयान को ट्वीट करते हैं तो महिला की क्या मर्यादा बचती है।

उन्होंने कहा कि यह हालात संसद में है तो सड़क पर क्या हालात होंगे। सरकार आंकड़े दिखाती है आंकडों से कुछ नहीं होता महिलाओं की मर्यादा बनाये रखने के लिए इच्छा शक्ति होनी चाहिए।

बता दें कि राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जब पीएम राज्यसभा में जवाब दे रहे थे तो उनकी एक बात पर रेणुका चौधरी जोर-जोर से हंसी इस पर मोदी ने एक टिप्पणी की थी जिसका कांग्रेस ने काफी विरोध किया है।

TOPPOPULARRECENT