महुआ सीपी सिंह के खिलाफ लड़ सकती हैं इंतिख़ाब

महुआ सीपी सिंह के खिलाफ लड़ सकती हैं इंतिख़ाब
रियासती खातून कमीशन की सदर महुआ माजी और आजसू के मरहूम लीडर नेता तिलेश्वर साहू की बीवी साबी देवी झामुमो में शामिल हो गई हैं। बहस है कि महुआ को रांची एसेम्बली सीट से इंतिख़ाब लड़ सकती हैं। माजी ने पूछने पर कहा कि टिकट देना पार्टी की मर

रियासती खातून कमीशन की सदर महुआ माजी और आजसू के मरहूम लीडर नेता तिलेश्वर साहू की बीवी साबी देवी झामुमो में शामिल हो गई हैं। बहस है कि महुआ को रांची एसेम्बली सीट से इंतिख़ाब लड़ सकती हैं। माजी ने पूछने पर कहा कि टिकट देना पार्टी की मर्जी पर मुनहसर करता है। ऐसे वह टिकट के लिए दरख्वास्त करेंगी। जानकारों के मुताबिक माजी के इंतिख़ाब लड़ने में कोई कानूनी अड़चन नहीं है। इंतिख़ाब जीतने के बाद उन्हें ओहदा छोड़ना पड़ेगा। क़ौमी समाजवादी पार्टी के सेक्रेटरी दिगंबर कुमार मेहता पार्टी सरबराह शिबू सोरेन की मौजूदगी में झामुमो में शामिल हो गये। महतो बरकळा से इंतिख़ाब लड़ना चाहते हैं। इस मौके पर मरकज़ी जेनरल सेक्रेटरी सुप्रियो भप्ताचार्य, तर्जुमान विनोद कुमार पांडेय, रांची जिला सदर अशोक कुमार सिंह मौजूद थे।

नाथवाणी पहुंचे भाजपा दफ्तर

राज्यसभा एमपी परिमल नाथवाणी इतवार को रियासत भाजपा दफ्तर पहुंचे। उन्होंने भाजपा के क़ौमी वज़ीर भूपेंद्र यादव और रियासती तंजीमे जेनरल वज़ीर राजेंद्र सिंह से मुलाकात की। बंद कमरे में इन लीडरों के दरमियान लंबी बातचीत हुई। बहस है कि भाजपा और आजस के दरमियान हुए इत्तिहाद की कड़ी नाथवाणी ही थे। भाजपा ने इस मुलाकात पर बोलने से इनकार कर दिया।

वर्षा गाड़ी ने की मुलाकात

आजसू से मूअत्तिल वर्षा गाड़ी इतवार को भाजपा दफ्तर पहुंची और पार्टी के आला लीडरान से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद बहस है कि वर्षा गाड़ी भाजपा में शामिल हो सकती हैं। वह मेयर के इंतिख़ाब में आजसू हिमायत उम्मीदवार थीं।

“झामुमो भाजपा का नकल नहीं कर रहा है। जिस पार्टी के पास वजीरे आला ओहदे का उम्मीदवार नहीं है उसका नकल कोई क्यों करेगा। भाजपा नरेन्द्र मोदी को आगे करके इंतिख़ाब लड़ रही है। उसको यहां के लीडरों पर भरोसा नहीं है।”
हेमंत सोरेन, वजीरे आला

Top Stories