Tuesday , July 17 2018

महोबा में फ़सल की बर्बादी देखकर सदमे से दो किसानों की मौत

महोबा: उत्तरप्रदेश के महोबा ज़िले में ज़ाला बारी की वजह से फसलों की हुई बर्बादी को देखकर दो किसानों की सदमे से मौत हो गई
ऐडिशनल पुलिस सुप्रिटेंडेंट‌ वंश राज यादव ने आज यहां बताया कि श्रीनगर क़स्बा के भूरा गंज का रहने वाला हज़ारी लाल कुशवाहा (52) कल शाम अपने खेत पर गया था। ज़ाला बारी की वजह से बर्बाद हुई फ़सल को देखकर उस को बुरी तरह सदमा पहुंचा और इस की हालत बिगड़ गई। परिवार वाले उस को ज़िला अस्पताल ले गए और हार्ट-अटैक की वजह से इस की मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि मृतक की पत्नी सिख देवी के अनुसार, किसान हज़ारी कुशवाहा सात बेघ कृषि भूमि पर खेती करता था। सूखा और सिंचाई प्रणाली की कमी के कारण से , उन्होंने रबी की फ़सल में सिर्फ तीन बेघ ज़मीन की खेती की थी। बरफ़बारी की वजह से फ़सल के बर्बाद हो जाने से वो परेशान हो गया था। इस पर बैंक का एक लाख दस हज़ार रुपय‌ का क़र्ज़ था।

इस के अलावा, चरखारी इलाके के नरेडी के 60 वर्षीय‌ किसान अशर्फ़ी लाल को खेत ही में हार्ट-अटैक आ गया। परिवार‌ जब तक अस्पताल पहुंचाने गए रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस दोनों मामले में तहक़ीक़ात कर रही है।

TOPPOPULARRECENT