Monday , December 18 2017

मानव शरीर पर दवाओं के परीक्षण के कारण, एक व्यक्ति की जान‌ जिंदगी और मौत के बीच‌

हैदराबाद: मानव शरीर पर दवाओं की आज़माईश पर हुई पेचीदगीयों के कारण‌ एक व्यक्ति मौत और जिंदगी की कश्मकश में हो गया
तेलंगाना के ज़िला करीमनगर के मौज़ा कविता पल्ली के रहने वाले सी अशोक के जिस्म पर कुछ दिनों पहले हैदराबाद में दवाओं की आज़माईश की गई थी जिसके बाद वो कई उलझनों का शिकार हो गया। उसे ईलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया।

अशोक के जिस्म पर पिछले कई महीने से दवाओं की आज़माईश की जा रही थी। इस का संबंध ग़रीब ख़ानदान से है, वो अपने घर के खर्च बर्दाश्त नहीं कर‌ सकता । इस मामले के सामने आने के बाद उस के सदस्यों परिवार ने जमी कंटा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई।

गौरतलब है कि पिछले साल जिमी कनटह शहर में इसी तरह की दवाओं के परीक्षण पर दो व्यक्तियों की मौत हो गई थी। इन लोगों की पहचान 38 वर्षीय जी चौधरी और 39 वर्षीय वी नागराज के तौर की गई थी। उनके शरीर पर बंगालूरू में दवाओं की आज़माईश की गई थी। कलेनल् लैब्स उमूमन ,दवाओं की जांच के लिए नौजवानों को लालच देने के लिए एजैंटस की सेवा देते हैं। ये एजेंटस राज्य के ज़िला वरंगल ,खम्मम,करीमनगर और अन्य स्थानों के गरीब लोगों को निशाना बनाते हैं।

TOPPOPULARRECENT