Saturday , December 16 2017

मायावती के फ़िर्का परस्त तंज़ीमों पर रोक लगाने के मुतालिबा

लखनउ 17 जुलाई : बहुजन समाज पार्टी की सरबराह मायावती के इस माँग‌ को कि मर्कज़ी हुकूमत तमाम मज़हबी नफ़रत फैलाने वाली जमातों और तंज़ीमों पर पाबंदी लगाए।

लखनउ 17 जुलाई : बहुजन समाज पार्टी की सरबराह मायावती के इस माँग‌ को कि मर्कज़ी हुकूमत तमाम मज़हबी नफ़रत फैलाने वाली जमातों और तंज़ीमों पर पाबंदी लगाए।

मुस्लिम तंज़ीमों ने सराहा है और हुकूमत से मुतालिबा किया है कि वो फ़िलफ़ौर बजरंग दल, विश्व हिंदु परिषद, जन संघ‌ जैसी हिंहु फ़िर्का परस्त जमातों पर पाबंदी लगाए। मुस्लिम फ़ोर्म के मुहम्मद शकील ऐडवोकेट, मुस्लिम मोमिन अंसार फ़ैडरेशन के जनरल सेक्रेटरी बाबू निज़ाम उद्दीन अंसारी ने कहा कि मायावती का हिंदुवादी तंज़ीमों पर मुतालिबा बिलकुल दरुस्त और आईन के मुताबिक़ है।

मर्कज़ी हुकूमत को फ़ौरी तौर पर इस मुतालिबा को मान कर हिंदु तंज़ीमों पर पाबंदी लगा देनी चाहिए। हिंदु तंज़ीमों पर वैसे तो पाबंदी आइद करने का मुतालिबा बहुत दिनौ से किया जा रहा है जहां कुछ तंज़ीमों के दहश्तगर्दी में मुलव्विस होने के वाक़ियात भी सामने आए हैं।

बजरंग दल, हिंदु वाहिनी ऐसी तंज़ीमें हैं जो तशद्दुद बरपा करने के बाद खुल्लम खुल्ला ख़ुद को ज़िम्मेदार क़रार देने में आर महसूस नहीं करतीं।

TOPPOPULARRECENT