मार्च अॉफ रिटर्न: प्रदर्शन कर रहे फलस्‍तीनीयों पर इजरायली सैनिकों ने फिर चलाई गोलीयां, चार की मौत, 600 से ज्यादा हुए घायल!

मार्च अॉफ रिटर्न: प्रदर्शन कर रहे फलस्‍तीनीयों पर इजरायली सैनिकों ने फिर चलाई गोलीयां, चार की मौत, 600 से ज्यादा हुए घायल!

गाजा स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि इजरायली सैनिकों ने शुक्रवार को गाजा बॉर्डर पर प्रदर्शन करने आये हजारों फिलिस्तीनियों पर लाइव फायरिंग और आंसू गैस से हमले किये। इजराइल सैनिकों के इस हमले में तक़रीबन 600 से ज्यादा फिलिस्तीनी घायल हुए है। एक किशोर सहित कम से कम चार प्रदर्शनकारियों शहीद हुए है।

फ्रांसीसी समाचार एजेंसी एजेंस प्रेस फ्रांस (AFP) के एक फोटोग्राफर समेत घायल 100 से अधिक लोगों पर इजराइल सैनिकों ने लाइव फायरिंग की।

अधिकारियों ने कहा, क्योंकि प्रदर्शनकारियों ने हमले के वक़्त टायर जला दिए और खुद को बचाने के लिए पत्थरों को फेंक दिया, जिसके जवाब में इजराइल सैनकों ने आंसू गैस से हमला करना शुरू कर दिया।

अरब न्यूज़ के मुताबिक, अस्पताल के अधिकारियों का कहना है कि अब तक इजरायली बलों ने सीमा के साथ विरोध में कम से कम 128 फिलिस्तीनियों की हत्या कर दी है। उधर शुक्रवार देर रात इज़राइल ने कहा कि गाजा के लोगों ने इजराइल सैनिक को गोली मारकर उसपर हमला किया।

जानकारी के मुताबिक, यह मार्च ईरान द्वारा पवित्र शहर के इजरायली शासन का विरोध करने के लिए स्थापित वार्षिक “जेरूसलम दिवस” ​​के साथ हुआ। अंतरराष्ट्रिय क़ुद्स दिवस के मौके पर हज़ारों फिलिस्तीनियों ने अपनी सर ज़मीन की हिफाज़त के लिए इजराइल के खिलाफ एक विशाल प्रदर्शन किया।

ईरान और इराक की राजधानियों में, हजारों लोगों ने “जेरूसलम दिवस” को विरोध प्रदर्शन के साथ चिह्नित किया, कुछ लोगों ने “इज़राइल का विनाश” के नारे लगाये तो कुछ ने इजरायली झंडे और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की तस्वीरें भी जलाई।

Top Stories