मालेगांव ब्लास्ट में गवाह ने पहचानी साध्वी प्रज्ञा की बाइक, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

मालेगांव ब्लास्ट में गवाह ने पहचानी साध्वी प्रज्ञा की बाइक, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

2008 के मालेगांव विस्फोट मामले में एक गवाह ने धमाके में इस्तेमाल साध्वी प्रज्ञा सिंह की बाइक की पहचान कर ली. माना जा रहा है कि इससे उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं. फिलहाल, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत मामले की रोज सुनवाई कर रही है.

सोमवार को सरकारी पक्ष विस्फोट में बरामद प्रमाण, टूटी-फूटी बाइक और साइकिलें लेकर आया। पहले गवाहों से दो बाइक और पांच साइकिलों की पहचान कराई गई, ‘फ्रीडम बाइक’ लोगो वाली बाइक को पहचानते हुए गवाह ने कहा कि यह विस्फोट के दिन दिखी थी. विस्फोट में इसका अगला हिस्सा पूरी तरह नष्ट हो गया पर ढांचा सलामत है. गवाहों के बाद न्यायाधीश विनोद पाडालकर ने भी प्रमाणों को देखा,

महाराष्ट्र एटीएस ने जांच में दावा किया था कि विस्फोट में इस्तेमाल हुई बाइक साध्वी प्रज्ञा की है। गवाह की पहचान के बाद मामले में मुख्य अभियुक्त साध्वी के लिए बचाव कठिन हो सकता है।

महाराष्ट्र के 2008 के मालेगांव धमाका मामले में अभियोजन पक्ष ने कहा है कि धमाके के बाद मिली एक मोटरसाइकिल भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा की थी.

भोपाल से सांसद साध्वी प्रज्ञा मालेगांव धमाका मामले में अभियुक्त हैं और इस समय ज़मानत पर जेल से बाहर हैं.

मुंबई की एक विशेष अदालत में सुनवाई के दौरान एनआईए के विशेष जज विनोद पाडलकर के सामने दो मोटरसाइकिलें और पांच साइकिलें पेश की गईं. एक चश्मदीद ने उस मोटरसाइकिल की पहचान की जो धमाके की जगह के क़रीब थी.

कथित तौर पर गोल्डन रंग की एलएमएल फ़्रीडम मोटरसाइकिल साध्वी प्रज्ञा के नाम पर रजिस्टर्ड थी.

Top Stories