Saturday , November 18 2017
Home / India / माल्या का सारा लोन माफ़ लेकिन आम आदमी की बचत पर भी है ऐतराज़, SBI ने ब्याज दरों में की कटौती

माल्या का सारा लोन माफ़ लेकिन आम आदमी की बचत पर भी है ऐतराज़, SBI ने ब्याज दरों में की कटौती

नई दिल्ली: देश में नोटबंदी के बाद बैंकों के बाहर लगी भीड़ में पैसे निकालने वाले लोगों की इतनी भीड़ नहीं जितनी कि पैसे जमा करवाने वालों की है। मोदी के नोटबंदी के फैसले ने जहाँ आम जनता को सड़कों पर लाकर खड़ा कर दिया है वहीँ देश के बैंकों को मालामाल कर दिया है। बीते दिनों की खबर है कि स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया की दिल्ली स्थित ब्रांच में एक दिन में 22000 करोड़ से भी ज्यादा रुपये जमा हुए हैं।

इस चीज़ का फायदा देश के जाने-माने बिजनेसमैन और कोर्ट द्वारा भगोड़ा घोषित किये जा चुके विजय को जरूर हुआ है। बताया जा रहा है कि एसबीआई ने माल्ल्या का हजारों करोड़ों का लोन माफ़ कर दिया है। लेकिन दूसरी तरफ भारतीय स्टेट बैंक ने चुनिंदा परिपक्वता अवधि वाली फिक्स डिपाजिट पर इंटरेस्ट रेट में 0.15 प्रतिशत तक की कटौती कर का एलान किया है।

सूत्रों का कहना है कि बीजेपी सरकार द्वारा पांच सौ और हजार के नोटों पर पाबंदी के बाद नकदी बढ़ने के साथ एसबीआई ने यह कदम उठाया है। जिसके बारे में बीएसई और एनएसई को भी जानकारी दे दी गई है। एसबीआई ने कहा है कि 365 से 455 दिन की फिक्स्ड डिपाजिट पर इंटरेस्ट रेट 0.15 प्रतिशत घटा दिया गया है जोकि पहले 7.10 प्रतिशत था और अब घटकर 6.90 प्रतिशत हो गया है जोकि आज से ही लागू हो रहा है।

TOPPOPULARRECENT