Wednesday , December 13 2017

माविसटों को ममता की मज़ीद मोहलत, हामीयों को इंतिबाह

कोलकता २२ नवंबर (पी टी आई) माइ सुट्टों से असल धारे में वापिस आने की ताज़ा अपील करते हुए चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी ने आज कहा कि जमहूरीयत में सब्र-ओ-तहम्मुल की कोई हद मुक़र्रर नहीं है।

कोलकता २२ नवंबर (पी टी आई) माइ सुट्टों से असल धारे में वापिस आने की ताज़ा अपील करते हुए चीफ़ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी ने आज कहा कि जमहूरीयत में सब्र-ओ-तहम्मुल की कोई हद मुक़र्रर नहीं है।

ताहम माविसटों के हमदर्दों को इंतिबाह दिया कि अगर वो नकसलाईटस को शानदार मुक़ाम अता करें तो उन के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी। उन्हों ने कहा कि हमें बेहतर नताइज की उम्मीद है।

अमन एक मुसलसल अमल होता है और उन्हें इस अमल में यक़ीन है। वो माविसट दोस्तों से असल धारे में वापिस आने की एक बार फिर अपील करते हुए तीक़न देती हैं कि हुकूमत हर मुम्किन तरीक़ा से उन की मदद करेगी।

मुशतर्का फ़ौजी कार्रवाई में मावसट ज़ेर-ए-असर इलाक़ा जंगल महल में शिद्दत पैदा करने के फ़ैसले का दिफ़ा करते हुए उन्हों ने कहा कि हुकूमत 5 माह से अमन की ख़ातिर प्रोग्राम मुल्तवी करती आ रही थी।

TOPPOPULARRECENT