Tuesday , December 12 2017

माशुका के शौहर के हाथों पिटे केरल के वज़ीर

तिरुअनंतपुरम, 02 अप्रैल: माशूका के शौहर से बुरी तरह पिटने वाले केरल के वज़ीर केबी गणेश कुमार (Forest and Environment Minister) ने बीवी से तलाक के लिए पीर के दिन को खानदानी अदालत में अर्जी दी है। अदाकार से राजनेता बने गणेश ने यह अर्जी कांग्रेस की अगुआई वा

तिरुअनंतपुरम, 02 अप्रैल: माशूका के शौहर से बुरी तरह पिटने वाले केरल के वज़ीर केबी गणेश कुमार (Forest and Environment Minister) ने बीवी से तलाक के लिए पीर के दिन को खानदानी अदालत में अर्जी दी है। अदाकार से राजनेता बने गणेश ने यह अर्जी कांग्रेस की अगुआई वाले यूडीएफ इत्तेहाद के इजलास के ठीक एक दिन पहले दाखिल की है, जिसमें उन्हें कैबिनेट में बनाए रखने पर फैसला होना है।

अदालत ने उनकी अर्जी कुबूल कर अगली सुनवाई 29 जून को करने का फैसला किया है। गणेश काफी दिनों से बीवी से अलगाव के लिए ज़ायदाद के बंटवारे पर बातचीत कर रहे थे। मालूम हो कि तीन मार्च को अखबारों में एक वज़ीर की माशूका के शौहर के हाथों की पिटाई की खबरों के बाद कांग्रेस के चीफ व्हिप पीसी जार्ज ने खुलासा किया था कि नाजायज़ ताल्लुक में पिटने वाले वज़ीर गणेश ही थे। इस वाकिया के बाद पहले से ही नाराज चल रहे गणेश के वलैद और केरल कांग्रेस (बी) के सदर बालकृष्ण पिल्लई ने अपने बेटे को कैबिनेट से हटाने का वज़ीर ए आला ओमन चांडी पर दबाव बढ़ा दिया था। बाप बेटे के बीच समझौता कराने में भी कांग्रेस नाकामयाब रही थी।

140 रकनी असेम्बली में महज तीन सीटों के ताइद से हुकूमत चला रहे चांडी के लिए गणेश के इस्तीफे पर फैसला बेहद मुश्किल हो सकता है। पिल्लई ने कल ( पीर के दिन) फिर कहा कि वज़ीर ए आला उनके बेटे को कैबिनेट से बाहर करें।

TOPPOPULARRECENT