Sunday , November 19 2017
Home / Kashmir / मासूम जुनैद किस कैम्प पर किन हथियारों से हमला कर रहा था: एन सी विधायक का महबूबा से सवाल

मासूम जुनैद किस कैम्प पर किन हथियारों से हमला कर रहा था: एन सी विधायक का महबूबा से सवाल

श्रीनगर। कश्मीर घाटी में मासूम जुनैद की ताजा हत्या मामले की गंभीर शब्दों में निंदा करते हुए नेशनल कांफ्रेंस ने कहा है कि एक सुनियोजित साजिश के तहत कश्मीरियों के नरसंहार और युवा वर्ग को अपाहिज और नेत्रहीन बनाया जा रहा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता व विधायक ईदगाह मुबारक गुल (पूर्व स्पीकर) ने 12 वर्षीय मासूम और बेगुनाह जुनैद की दर्दनाक मौत पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए बलों की कथित बर्बरता की तीव्र शब्दों में निंदा की है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

कश्मीर घाटी में हो रहे मानवाधिकार की बदतरीन पामालियों को इंतिहा करार देते हुए मुबारक गुल ने कहा कि इस से अधिक उत्पीड़न, दमन और अत्याचार का उदाहरण न केवल कश्मीर बल्कि देश, उपमहाद्वीप और दुनिया के इतिहास में कहीं नहीं मिलती। उन्होंने कहा कि 12 वर्षीय जुनैद भी पैलेट गन का शिकार बना जिसे केंद्र और राज्य सरकार अघातक जतलाते हुए थकते नहीं।
न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार मुबारक गुल ने कहा कि महबूबा मुफ्ती कहती हैं कि मारे जा रहे बच्चे कैंडी लेने नहीं बल्कि कैंम्पों पर हमला करने जाते हैं, महबूबा मुफ्ती जनता को बता दें कि 12 वर्षीय जुनैद किस कैंम्प पर हमला कर रहा था और उसके हाथ में कौन-कौन से हथियार थे। उन्होंने महबूबा मुफ्ती से मुखातिब होते हुए कहा कि 12 वर्षीय जुनैद की मौत को आप कौन से फ़रेबी सबूत देकर उचित साबित करेंगी।
मुबारक ने कहा कि इस समय कश्मीरियों पर जो अत्याचार किए जा रहे हैं भविष्य में इसके गंभीर परिणाम निकलने के शक्तिशाली संभावना हैं। 3 महीने से लोगों को कर्फ्यू और बंदिशों से परेशान किया जा रहा है, जामा मस्जिद श्रीनगर में पिछले 13 हफ्तों से जुमा की नमाज अदा नहीं की जा सकी। हज़रत मीर सैयद याकूब (रह) सोनावार के अस्ताना आलिया और मस्जिद में ताला चढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि यह कौन सी लोकतंत्र है जिसमें मस्जिदों और खानकाहों में प्रार्थना करने के लिए रोक लगाई जाती हैं।

TOPPOPULARRECENT